शहर मे सोमवार को ढोल नगाड़ों और डीजे की धुन के बीच भक्त"/>

अगले बरस फिर जल्दी आ .....

शहर मे सोमवार को ढोल नगाड़ों और डीजे की धुन के बीच भक्तो ने बप्पा की विदाई नम आंखों से की। प्रतिमाओ का विसर्जन केन नदी में कर गणेश महोत्सव का समापन किया गया। रास्ते भर मे 'जय गणेश-जय गणेश, गणपति बप्पा मोरया और अगले बरस फिर जल्दी आ के उद्घोष गूंजते रहे। इसके पूर्व नगर में भव्य शोभा यात्रा निकली।

शहर और आसपास गांवों में रखी गईं गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन जुलूस निकला। गाजे-बाजे के बीच श्रद्धालु थिरकते रहे। पटाखों के बीच खूब अबीर-गुलाल उड़ा। डीजे में जमकर युवाओं ने डांस किया। देर शाम नगर भ्रमण के बाद प्रतिमाएं केन नदी पहुंच विधिवत पूजन के बाद नदी में प्रतिमाएं विसर्जित की गईं।

गणेश महोत्सव से उत्साहित महिला श्रद्धालुओं की विसर्जन में आंखें छलक पड़ीं। घरों में विराजमान किए गए गणेश प्रतिमाओं का भी आयोजकों ने नम आंखों से विसर्जन किया। प्रशासन द्वारा भी गणेश महोत्सव को देखते हुये उचित प्रबंध किए गए थे।



चर्चित खबरें