website statistics
जहर खुरानी गिरोह को नशीली गोलियां सप्लाई करने वाले फ"/>

जीआरपी ने फार्मेसिस्ट को बनाया 120 बी का आरोपी, भेजा जेल

जहर खुरानी गिरोह को नशीली गोलियां सप्लाई करने वाले फार्मेसिस्ट को जीआरपी झांसी ने 120 बी का आरोपी बनाकर जेल भेजा है। उधर डिप्टी सीएमओ ने फार्मेसिस्ट के तैनाती वाले अस्पताल का निरीक्षण कर अभिलेख कब्जे में लिये है। जहर खुरानी गिरोह में झांसी जनपद के उल्दन थाना क्षेत्र के दादपुरा संतपुरा निवासी महेन्द्र अहिरवार तथा उसकी पत्नी मीरा के साथ 29 जुलाई की रात प्लेट फार्म नम्बर एक में जहरखुरानी की घटना को अंजाम दिया था।

दोनों लोग महाकौशल एक्सप्रेस में बैठकर दिल्ली से झांसी आये थे। जहर खुरानी की इस घटना में मीरा की इलाज के दौरान मौत हो गयी थी। मीरा की मौंत के बाद जागी जीआरपी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जहर खुरानी गिरोह के राकेश तथा उसकी पत्नी रूक्मणी को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। जीआरपी ने राकेश की निशानदेही पर 9 अगस्त की सुबह कस्बे के शांती मेडिकल स्टोर में छापा मार कर पचखुरा बुजुर्ग में तैनात शैलेन्द्र उर्फ लड्डू गुप्ता को हिरासत में लेकर पूंछताछ के लिये झांसी ले गयी थी। पूंछताछ के बाद जीआरपी ने फार्मेसिस्ट को जहर खुरानी को नशीली गोलियां सप्लाई करने का दोषी मानकर 120बी का आरोपी बनाया है।

11 अगस्त को जीआरपी ने फार्मेसिस्ट से पूंछताछ पूरी करने के बाद जेल भेज दिया है। फार्मेसिस्ट के जेल जाने की सूचना पाकर शनिवार को डिप्टी सीएमओ डा. रामऔतार ने पचखुरा बुजुर्ग चिकित्सालय का दौरा कर औचक निरीक्षण करते हुये अस्पताल के रिकार्ड चेक किये हैं। चर्चा है कि डिप्टी सीएमओ ने कुछ सरकारी अभिलेख कब्जे में लिये है। उधर प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. आशुतोष निरंजन ने बताया कि फार्मेसिस्ट की गिरफ्तारी के बाद स्टाफ की कमी के कारण किसी की नियुक्त नही की गयी है। मुख्य चिकित्साधिकारी को पत्र भेजकर तैनाती की मांग की है। उन्होंने बताया कि डिप्टी सीएमओ ने गैर हाजिर चल रहे फार्मेसिस्ट को अनुपस्थित कर दिया है।



चर्चित खबरें