खूबसूरती के जाल में फंसाकर यात्रियों से जहरखुरानी करने वाली यु"/>

खूबसूरती के जाल में फंसाकर युवती करती थी ट्रेन यात्रियों से जहरखुरानी

खूबसूरती के जाल में फंसाकर यात्रियों से जहरखुरानी करने वाली युवती को पति के साथ झांसी जीआरपी क्राइम ब्रांच ने पकड़ने में सफतला हासिल कर ली। जिन्होनें पिछले दिनों झांसी रेलवे स्टेशन पर एक दम्पति को अपना शिकार बनाया था। पकड़े गये दम्पति के पास से क्राइम ब्रांच ने नशीली दवायें बरामद की है। दम्पति ने अब तक झांसी समेत मथुरा और आगरा में भी कई यात्रियों को अपना शिकार बनाया है।

 

ऐसे मिली सफलता

झांसी जीआरपी कप्तान ओ.पी सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले दिनों झांसी रेलवे स्टेशन पर हुई जहरखुरानी की घटना को गम्भीरता से लेते हुए क्राइम ब्रंाच प्रभारी संजय सिंह को दी गई। क्राइम ब्रांच प्रभारी संजय सिंह ने जिम्मेदारी लेते हुए अपनी टीम और जीआरपी थाना प्रभारी के साथ जहरखुरानों की तलाश शुरु करते हुए स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। जिसमें उन्हें उन्हें एक युवक व युवती नजर आये। सीसीटीवी कैमरों को आधार बनाकर उन्होंने युवक व युवती की खोजबीन शुरु कर दी। तभी उन्हें जानकारी हुई कि एक युवक व युवती झांसी रेलवे स्टेशन पर है। सूचना को क्राइम ब्रांच टीम ने गम्भीरता से लिया। इसके बाद वह बताये गये स्थान पर पहुंचे और उक्त युवक व युवती पकड़ लिया। तलाशी के दौरान उनके पास से नशीली दवायें, नकदी और मोबाइल बरामद हुए। पकड़े गये युवक व युवती पति-पत्नी है। दोनों को थाने लाया गया। जहां उनसे पूछतांछ की गई। पूछतांछ में युवक ने अपना नाम राकेश और युवती ने अपना नाम रुकमणि पत्नी राकेश निवासी बम्हौरी छतरपुर बताया। वर्तमान में वह महोबा में किराये से रहते हैं।

ऐसे बनाते हैं अपना शिकार

जीआरपी कप्तान ने जानकारी देते हुए बताया कि पकड़े गये युवक राकेश ने बताया कि उसकी पत्नी रुकमणि सुन्दर है। जिसका लाभ उठाकर वह उसे आगे करता है। उसकी पत्नी अपनी सुन्दरता के जाल में भोले-भाले यात्रियों को पहले फंसाकर दोस्ती करती है। इसके बाद खान-पान सामग्री मांगते है। जिसमें वह नशीली दवाए मिला लेते है। जिसे खाने के आधा घंटे बाद यात्री बेहोश हो जाते। बेहोश होने के बाद वे उन्हें लूटकर भाग जाते है। उन्होंने अधिकांश घटनायें आगरा और मथुरा रेलवे स्टेशन की थी। लेकिन इस बार उन्होंने पहली बातर झांसी में एक दम्पति को शिकार बनाया और पकड़े गये।

यह की थी घटना

झांसी रेलवे स्टेशन पर पिछले दिनों दिल्ली से मजदूरी कर एक दम्पति झांसी आया था। जहां पर राकेश और रुकमणि की नजर उन पर पड़ी। यह देख उन्होंने योजना बनाई। इसके हर बार की तरह पत्नी को आगे कर उनसे दोस्ती बनाई। दोस्ती होने के बाद उन्होंने चाय पिलाई। चाय पीने के कुछ देर बार वे बेहाश हो गये। बेहाश होने के बाद युवक के पैर में मौजे के अंदर रखे रुपए निकाल लिए और भाग गये।

टीम को किया सम्मानित

यात्रियों से जहरखुरानी करने वाले दम्पति को पकड़ने वाली टीम को झांसी जीआरपी कप्तान सिंह की ओर 5000 रुपए और आईजी रेलवे की ओर से 10 हजार रुपए का ईनाम देने की घोषणा की।



चर्चित खबरें