विभागीय अधिकारी तथा कार्यदायी संस्थाएं जनपद में संच"/>

विकास कार्यों की बैठक में डीएम ने अधीनस्थों के कसे पेंच

विभागीय अधिकारी तथा कार्यदायी संस्थाएं जनपद में संचालित विकास योजनाओं एवं निर्माणाधीन कार्यों को शीघ्रता से करा कर समय सीमा के अन्दर पूर्ण करायें।
उक्त बात जिलाधिकारी नरेन्द्र शंकर पाण्डेय ने आज कलेक्टरेट सभाकक्ष में आयोजित विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में कही। उन्होंने कहा कि सभी विभाग अपने-अपने कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर कार्यदायी संस्थाओं से मिलकर समय से पूर्ण करायें।

उन्होंने कहा कि जो सडक़े निर्माणाधीन हैं और जो सेतु बनाये जा रहे हैं उन्हें शीघ्रता से पूर्ण करायें। विद्युत विभाग को निर्देश दिये कि वह ट्रांस्फॉर्मरों का विस्थापन समय से करायें तथा विद्युतीकरण के कार्यों को भी तेजी से करायें। जिससे आम नागरिकों को विद्युत की समस्या न रहे, बीएसए राजेश कुमार शाही को निर्देश दिये कि वह स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने के लिये एबीएसए द्वारा विद्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण शासन द्वारा निर्धारित निरीक्षण के अनुसार करायें और उसकी रिपोर्ट प्रतिमाह अपने माध्यम से भेजें।

मुख्य चिकित्साधिकारी अल्पना बरतारिया से कहा कि वह इनहाइड फण्ड मद में आवण्टित धनराशि का उपयोग अस्पताल की सफाई आदि व्यवस्था पर खर्चा कर अस्पताल को साफ-सुथरा बनायें, जिससे मरीजों को सुविधाएं हों। साथ ही किसी अस्पताल में दवाइयों की कमी न रहे, स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत निर्मित होने शौचालयों का निर्माण शीघ्रता से करायें, जिससे सभी ग्रामों को ओडीएस किया जा सके।

कुक्कुट योजना के प्रार्थना पत्रों पर ऋण स्वीकृत करा कर योजना संचालित करायें। श्रमिक विभाग श्रमिकों के पंजीकरण कराकर श्रमिको को मिलने वाली सुविधाओं का लाभ दिलायें। इसमे मनरेगा के जॉब कार्ड धारक श्रमिको का पंजीकरण भी कराया जाये। आंगनबाड़ी केन्द्र के निर्माण को 14 अगस्त तक पूर्ण कराकर विभाग को हस्तानान्त्रित करने के निर्देश आरईएस को दिये, आसरा योजना के अन्तर्गत जालौन व कोटरा में शेष आवासों के निर्माण शीघ्र कराने के निर्देश दिये। वृक्षारोपण का लक्ष्य 15 अगस्त तक पूर्ण करने के निर्देश सम्बन्धित विभागों को दिये। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी एसपी सिंह, डीएफओ, डीडीओ समेत जनपद के कई विभागाध्यक्ष मौजूद रहे।



चर्चित खबरें