?> चित्रकूट: सरकारी अस्पताल के डॉक्टर घर में करते है प्राइवेट प्रैक्टिस, कैमरा देख घर से भागे डॉक्टर बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ अपने आवास में प्राइवेट प्रैक्टिस कर रहे डॉक्टर ऋषि कु"/>

चित्रकूट: सरकारी अस्पताल के डॉक्टर घर में करते है प्राइवेट प्रैक्टिस, कैमरा देख घर से भागे डॉक्टर

अपने आवास में प्राइवेट प्रैक्टिस कर रहे डॉक्टर ऋषि कुमार मीडिया कर्मी के पहुंचने पर चड्डी पहन कर ही भाग चलें जबकि डॉ राहुल बर्मा दरवाजा बंद करके अंदर ही घुस गए ।

बताते चलें कि धुसमैदान के पीछे बने हुए डॉक्टरों के आवास में जिला अस्पताल से ज्यादा मरीजों की भीड़ नजर आती है। लोग जिला अस्पताल ना पहुंचकर डॉक्टरों के आवास में ही इलाज कराने को मजबूर हैं। इसका सच जानने के लिए जब हमने बाहर खड़े मरीजों से पूछा तो उन्होंने बताया कि जिला चिकित्सालय पहुंचने पर डॉक्टर साहब प्रारंभिक इलाज करने के बाद आवास आने के लिए ही बोलते हैं। और पूरी तरह इलाज यहाँ ही किया जाता है। गौरतलब हो की जब हमारी टीम अचानक डॉक्टरों के आवास पहुंची और अलग-अलग डॉक्टरों की कक्ष में प्रवेश करने का प्रयास किया तो डॉक्टरों ने  दरवाजा बंद कर लिया। आश्चर्य की बात यह है कि राहुल वर्मा के कक्ष में जितने मरीज अंदर थे तो दरवाजा बंद करने पर अंदर ही रह गए और बाहर वाले बाहर ही। उधर डॉक्टर ऋषि कुमार तुरंत दरवाजा बंद करने के बाद स्कूटी लेकर भाग चले।

क्या कारण है कि भ्रष्टाचार मुक्त भारत बनाने का राग अलापने वाली सरकारी डॉक्टरों के सम्मुख नतमस्तक होती दिख रही है? मीडिया ने इसका सच कई बार उजागर किया लेकिन प्रशासन आज तक मौन बना हुआ है। क्या योगी सरकार को अब यहाँ भ्रष्टाचार नहीं दिख रहा है? क्या अपनी मनचाही शुल्क वसूल कर इस तरह से प्राइवेट प्रैक्टिस करना उचित है? आखिरकार सरकार इस पर कब ध्यान देगी?



चर्चित खबरें