?> रैपुरा गांव में गहराया जल संकट, पानी की भीषण समस्या से गुजर रहे ग्रामवासी बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ जिले के विकास खण्ड मानिकपुर अन्र्तगत आने वाले रैपुर"/>

रैपुरा गांव में गहराया जल संकट, पानी की भीषण समस्या से गुजर रहे ग्रामवासी

जिले के विकास खण्ड मानिकपुर अन्र्तगत आने वाले रैपुरा गांव में कई दिनों से पानी की भीषण समस्या बनी हुई है। लोग बूँद-बूँद जल के लिए भटक रहे हैं। टैंकर द्वारा सप्लाई तो की जाती है किन्तु कुछ ही लोगों तक जल पहुँच पाता है। परिणाम स्वरूप पानी का इस कदर दंस झेल रहे लोगों मे आक्रोश पनप रहा है। बतातें चलें की जहाँ से गाँव में पानी सप्लाई किया जाता था उस बोरवेल में डला हुआ सबमरसिबल पम्प हफ्तों से जला पडा हुआ है। टैंकर बराबर सबको पानी नहीं पंहुचा पा रहा है।
कई घंटो तक बड़ी जद्दोजहद करने के बाद कुछ लोगों को कुछ पानी मिल पाता है। किन्तु कुछ को तो बैरंग ही लौटना पड़ता है। यह समस्या किसी सूखा पड़ने वाले वर्ष से कम नहीं नजर आ रही है।

जब बुन्देलखण्ड न्यूज़ की टीम रैपुरा पहुंची तो गाँव की जल समस्या सामने आ गई। सूबे की नवनिर्मित योगी सरकार गठन के तुरंत बाद से ही जलापूर्ति को प्रमुखता से लेते हुए करोड़ों रुपये अपने 100 दिन के कार्यकाल में ही बहा डाला है। लेकिन जनपद में इसका कोई खास असर नहीं दिखाई दे रहा है। जल संस्थान तो जनपद में सबसे फिसड्डी नजर आ रहा है।

फिलहाल प्रश्न रैपुरा गाँव की पेयजल समस्या का है। जहाँ प्राशनिक अमला कोई विशेष रूचि नहीं ले रहा है।

आखिर कब बहाल होगी गाँव में पेयजल ब्यवस्था? कब तक लोगों को थोडा पानी में ही गला सींचना पड़ेगा? क्या सम्बंधित बिभागीय अधिकारियों की तरफ से इसकी कोई मियाद है?