तहसील पाली अन्तर्गत ब्लाक मडावरा के ग्राम डोंगराखुर"/>

विद्यालय की जगह-जगह चाहरदीवारी तोडकर क्षति पहुंचा रहें हैं आराजक तत्व

तहसील पाली अन्तर्गत ब्लाक मडावरा के ग्राम डोंगराखुर्द में अराजक तत्व हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी आराजक तत्वों द्वारा विद्यालय की चाहरदीवारी कई जगह से तोड दी गयी। विद्यालय की चाहरदीवारी टूटने से विद्यालय के अंदर आवारा जानवर बैठ रहें हैं तथा विद्यालय परिसर को गंदा कर रहे हैं।

इस संबंध में विद्यालय के अध्यापकों द्वारा थानाध्यक्ष नाराहट को प्रार्थना-पत्र देकर अवगत कराया गया है किन्तु अभी तक कोई कार्यवाही पुलिस द्वारा आराजक तत्वों के खिलाफ नहीं की गयी है।

उल्लेखनीय है कि ग्राम डोंगराखुर्द में एक ही परिसर में तीन परिषदीय विद्यालय संचालित हैं। एक ही परिसर में कन्या प्राथमिक विद्यालय, प्राथमिक विद्यालय बालक तथा पूर्व माध्यमिक विद्यालय हैं। विद्यालय के चारों ओर चाहरदीवारी को में से सामने एवं अगल-बगल में आराजक तत्वों द्वारा कई जगह विद्यालय की चाहरदीवारी को तोड दिया गया है। पिछले वर्ष भी आराजक तत्वों द्वारा विद्यालय की चाहरदीवारी तोड दी गयी थी जिसे विद्यालय के रखरखाव धनराशि से किसी तरह से मरम्मत कराया गया था, तब जाकर चाहर दीवारी ठीक हो सकी थी।

इधर अब इस वर्ष भी विद्यालय की चाहर दीवारी को आराज तत्वों ने एक बार फिर से तोड दिया है जिससे विद्यालय परिसर में आवार जानवर बैठते है तथा विद्यालय परिसर को गंदा करते हैं। थानाध्यक्ष नाराहट को प्रार्थना-पत्र देकर पूर्व माध्यमिक विद्यालय के इं0प्र0अ0 अनिल सिंह राठौर, इं0प्र0अ0 प्राथमिक विद्यालय प्रथम हकिमुद्दीन, स0अ0 सीमा कुमार, ममता, रानी जैन, लोकपाल सिंह, अमित निरंजन आदि ने सम्पूर्णं मामले से अगवत कराया था किन्तु अब तक थाना नाराहट पुलिस द्वारा आराजक तत्वों के खिलाफ कोई कानूनी कार्यवाही नहीं की गयी है, जिससे उनके हौशले बुलंद हैं। उन्होंने कार्यवाही की मांग की है।

इधर खण्ड शिक्षा अधिकारी मडावरा ने भी विद्यालय के शिक्षकों से प्राप्त प्रार्थना-पत्र के आधार पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को भेजकर पुलिस अधीक्षक द्वारा निर्देश कराकर आराजक तत्वों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।



चर्चित खबरें