नाबांर्ड के सहयोग से जनपद के सैकडो ग्रामो अर्पित ग्र"/>

जल श्रोतो को संरक्षित करने की बताई जरूरत: पीके मिश्रा

नाबांर्ड के सहयोग से जनपद के सैकडो ग्रामो अर्पित ग्रामीण विकास संस्थान के द्वारा जल जागरूकता अभियान सफलता पूर्वक संचालित किया गया। कार्यक्रम का क्या प्रभाव आम जन मानस मे पडा़ इसके लिए जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन इलाहाबाद ग्रामीण स्वरोजगार संस्थान कुछेछा मे किया गया।

इस मौके पर कार्यक्रम से जुड़े जलदूतों ने अपने अनुभव साझा किए। जनपद मे जल संरक्षण की कोई ठोस योजना नही है और न ही लोगो मे इसके प्रति जागरूकता है। ग्राम मे मौजूद जल श्रोत्रों का ंसरक्षण नही है जिसको संरक्षित करने की जरूरत है। साथ ही इस प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाने की आवश्यकता है। नाबार्ड लखनऊ से आए उप महा प्रबन्धक पी0 के मिश्र ने कहा कि जनपद मे जल संरक्षण के लिए येाजना बनाने की जरूरत है जिससे वर्षा जल का समुचित प्रबनधन हो सके नाबार्ड इसमे मदद कर सकता है। मुख्य पशु चिकित्साअधिकारी  विजय सिंह ने जल के बिना पशु पालन सम्भव नही है इस लिए इसके महत्व को समझना आवश्यक है। सी0ई0ई0 लखनऊ से आए जीतन्द्र कुमार पटेल ने जलदूतों के द्वारा कौन सी समस्येंा का सामना करना पड़ा इस पर अभ्यास कार्य व प्रस्तुतिकरण कराया गया।

कार्यशाला मे अर्पित ग्रामीण विकास संस्थान के निदेशक डा शिवलाल सिंह द्वारा सम्पूर्ण अभियान पर प्रस्तुति करण भी दिया गया। जिसमे जनपद मे जल श्रोतों की स्थिति एवं जल जागरूकता अभियान के दोरान समुदाय द्वारा किए गए कार्यो को भी दर्शाया गया। कार्यशाला मे क्षेत्रीय प्रबन्धक इलाहाबाद ग्रामीण बैंक वी0 पी0 सिंह ने जल जागरण अभियान की सफलता के लिए जलदूतों का उत्साह वर्धन किया और इसे लगातार कुछ सालों तक चलाने पर बल दिया ।

कार्यशाला मे अच्छा कार्य करने वाले जल दूतों को प्रमाण पत्र एवं शील्ड देकर सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम मे सुमन सिंह, कमलेश यादव, लखनलाल,  रामू, कैलाश कुमार, शिवपूजन, अंकुश गुप्ता, परमलाल सेवा समिति से एस0के0 चर्कवर्ती, युवा मण्डल विकास समिति से मनोज कुमार, इशारा गायत्री समिति ललितपुर से के0बी0शर्मा आंदि ने भी अपने विचार रखे कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला विकास प्रबन्धक नाबार्ड के0के0सोनी ने किया।

 



चर्चित खबरें