महाराजा छत्रसाल बुंदेलखण्ड विश्वविद्यालय छतरपुर द"/>

गुरूवे नमः कार्यक्रम का किया गया आयोजन

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखण्ड विश्वविद्यालय छतरपुर द्वारा विद्यार्थियों में पाश्चात्य संस्कृति के बढ़ते प्रभाव के कारण अपनी गौरवशाली संस्कृति, संस्कार, परम्परा एवं नैतिक मूल्यों के भाव जागृत करने तथा गुरू शिष्य अंतर संबंधों व गुरू की महत्ता को पुनः स्थापित करने के उद्देश्य से विवि द्वारा गुरू पूर्णिमा के अवसर पर गुरूवे नमः कार्यक्रम आयोजित किया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में कुलपति प्रो. प्रियव्रत शुक्ल उपस्थित थे, जबकि प्राचार्य डॉ. एल.एल. कोरी, प्रो. प्रमोद मिश्रा एवं प्रो. एस.आर. पाल, विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। अतिथियों द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जलन एवं सरस्वती पूजन कर किया गया।

इस दौरान छात्र-छात्राओं ने गुरूजनों का सम्मान किया। छात्र लोकेश रावत ने गुरूवे नमः महोत्सव के अवसर पर अपने विचार व्यक्त किए एवं गुरू के महत्व पर प्रकाश डाला। कुलपति प्रो. शुक्ल ने कहा कि गुरू को ज्ञान से परिपूर्ण होना चाहिए। हमारी संस्कृति में शिष्यों ने हमेशा गुरू का सम्मान किया है।

कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों द्वारा शासन के निर्देशानुसार आरंभ किए गए गुरूवे नमः कार्यक्रम को सराहनीय कदम बताया गया। कार्यक्रम के अंत में उप कुलसचिव डॉ. राजीव मिश्रा ने समस्त उपस्थितजनों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. अश्वनी कुमार दुबे द्वारा किया गया।



चर्चित खबरें