< कार्यशाला एवं रिक्शा रैली निकालकर आमजनों को किया जागरूक Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर स्वास्थ्य विभाग द्वा"/>

कार्यशाला एवं रिक्शा रैली निकालकर आमजनों को किया जागरूक

विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा रिक्शा रैली एवं कार्यशाला आयोजित कर छोटा परिवार-सुखी परिवार की उपयोगिता के बारे में संदेश देकर आमजनों को जागरूक किया। रैली को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. अजय बड़ोनिया ने झण्डी दिखाकर जिला चिकित्सालय परिसर से रवाना किया। रैली बकौली चैराहा, घंटा घर, बस स्टैण्ड होते हुए जिला चिकित्सालय परिसर में समाप्त हुई। वहीं नवीन एम.सी.एच. इकाई में कार्यशाला दौरान वक्ताओं ने स्त्रियों के जीवन से जुड़ी प्रजनन स्वास्थ्य समस्याओं पर विशेष रूप से प्रकाश डाला।

इस मौके पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.बड़ौनिया ने मिशन परिवार विकास की औपचारिक शुरूआत करते हुए बताया कि मां-शिशु का जीवन बहुमूल्य है। मां-शिशु की जीवन रक्षा तथा सेहतमंद बनाये रखने के लिए शीघ्र विवाह, शीघ्र प्रसव एवं बार-बार बच्चे के जन्म को टालना जाना बेहद जरूरी है। परिवार नियोजन के साधन के रूप में मौजूद स्थायी-अस्थायी साधनों को अपनी इच्छानुसार अपनाकर परिवार को सीमित रखकर हम सुखी परिवार ही नहीं बल्कि विश्व विकास में भी सहभागी बन सकते है। इसके लिए प्रत्येक दम्पत्ति को अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए। अब शीघ्र ही शासकीय संस्थाओं में अंतरा इन्जेक्शन व छाया गोली विकल्प के रूप में मौजूद रहेगी। इस मौके पर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. ए.के. बजाज, स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅ. श्रद्धा गंगेले, डाॅ. गिरीश जैन विशेषरूप से मौजूद रहे।

डाॅ. बजाज ने जिले में सुरक्षित प्रसव हेतु उपलब्ध डिलेवरी प्वाइंट एवं यहां दी जाने वाली सेवाओं के बारे में अवगत कराया। वहीं डाॅ. गंगेले ने मौजूद सी.आई.सी.एम., ओजस्विनी नर्सिंग काॅलेज के छात्राओं एवं शहरी आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को गर्भ निरोधक बचाव के साधन के रूप में नवीन विकल्प के रूप में शामिल किये गये अंतरा इन्जेक्शन एवं छाया गोली की उपयोगिता के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि अंतरा इन्जेक्शन स्त्री को तीन माह में एक बार गर्भ ठहरने से रोकने में इस्तेमाल में लाया जाता है। इस दौरान जिला कार्यक्रम प्रबंधक, जिला खाद्य अधिकारी राकेश अहिरवार, जिला आई.ई.सी. सलाहकार, स्डूवर्ड वीरेन्द्र असाटी सहित स्वास्थ्य अमला मौजूद रहा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें