विश्व जनसंख्या दिवस पर डकोर स्वास्थ्यकेन्द्र में स्वास्थ्य मे"/>

मिशन परिवार विकास कार्यक्रम का हुआ शुभारम्भ

विश्व जनसंख्या दिवस पर डकोर स्वास्थ्यकेन्द्र में स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन एसीएमओ डॉ. आशाराम व बीएम खैर तथा डीपीएम डॉ.प्रेम प्रताप सिंह ने संयुक्त रूप से फीता काट कर किया। स्वास्थ्य मेले में अलग-अलग लगे स्टॉलों में बैठी डॉक्टरों की टीम ने मरीजों का नि:शुल्क पर्चा बना कर स्वास्थ्य परीक्षण किया साथ ही उन्हें बारिश के मौसम में संक्रामक बीमारियों से बचाव की भी जानकारियाँ दीं। इस दौरान जिला मुख्यालय उरई से आये कई वरिष्ठ डॉक्टर भी मौजूद रहे।

विश्व जनसंख्या स्थिरता पखबाड़ा दिवस पर मंगलवार को कस्बा डकोर पीएचसी प्रांगण में आयोजित विशाल स्वास्थ्य मेले में जिला मुख्यालय उरई से पहुंचे एसीएमओ डॉ. आशाराम, डॉ. बीएम खैर एवं डीपीएम प्रेमप्रताप सिंह ने स्वास्थ्य मेले में योगदान दे रहे डॉक्टरों से दवाओं के बारे में पूछताछ की। इस दौरान एसीएमओ डॉ. आशाराम ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रहीं कई महत्वपूर्ण योजनाओं का सभी को लाभ मिले इसलिये खास मौकों पर ऐसे आयोजन करके हर गरीब को मुफ्त इलाज दिये जाने की योजनाएं संचालित हैं। इसके बाद एसीएमओ डॉ. बीएम ने कहा कि जनसंख्या में दिन व दिन भारी बढोत्तरी हो रही है, इसकी रोकथाम के लिये गांवों के युवाओं को आगे आना चाहिए, जिससे बढ़ती जनसंख्या पर रोक लगाई जा सके। वहीं डीपीएम डॉ. प्रेम प्रताप सिंह ने कहा कि विश्व जनसंख्या दिवस के उपलक्ष्य में लोगों को जागरूक करने के लिये स्वास्थ्य मेलों का आयोजनों की शुरूआत डकोर के प्राथमिक स्वास्थ्यकेन्द्र से की गयी है जो 12 से 24 जुलाई तक निरंतर जनपद की सीएचसी व पीएचसी में स्वास्थ्य शिविरों के माध्यम से जनसंख्या स्थिरता पखबाड़ा के तहत लोगों को जागरूक किया जायेगा।

उक्त कार्यक्रम की व्यवस्थाएं देख रहे एमओआईसी डॉ. इदरीश मुहम्मद की टीम ने अपील करते हुये क्षेत्रवासियों कहा कि दो बच्चों में तीन साल के अन्तराल से बच्चा भी स्वस्थ रहता है और उसका पालन-पोषण के साथ पढाई लिखाई भी ठीक होती है। स्वास्थ्य मेले में 434 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। जिनमें 33 मरीजों की खून, पेशाब की जांच की गयी और 52 मरीजों की सुगर की जांच की गयी एवं 19 मरीजों ने दांतों की जांच कराई, 17 मरीजों की आंखों का टेस्ट किया गया, 9 लोगों की कुष्टï रोग की जांच की गयी, 26 लोगों की सिलाइड बनाई गयीं। इसमे अन्य लोगों ने बुखार, सरदर्द, खांसी, खुजली, दाद आदि का चेकअप करा कर दबा ली।

इस मौके पर बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. योगेश आर्या, डॉ. कमलेश, डॉ. अमित गुप्ता, डॉ. पदमिनी, डॉ. विमला, डॉ. आलोक मिश्र, डॉ. आलोक तिवारी, डॉ. जूही निरंजन, डॉ. जया आर्या, इरशाद, हरीशंकर, अर्चना समेत कई स्वास्थ्यकर्मी मौजूद रहे।



चर्चित खबरें