समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी मई में कराये गये हाउस होल्"/>

समीक्षा बैठक में बच्चों के नामांकन बढ़ाने पर डीएम ने दिया जोर

समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी मई में कराये गये हाउस होल्ड सर्वे में चिन्हित किये गये 580 आउट आफ स्कूल बच्चों का नामांकन 15 जुलाई तक सम्बन्धित विद्यालयों में कराना अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करें। अन्यथा की स्थिति में कठोर कार्यवाही की जायेगी।

उक्त बात जिलाधिकारी नरेन्द्र शंकर पाण्डेय ने सोमवार को कलेक्टरेट सभाकक्ष में आयोजित स्कूल चलो अभियान की समीक्षा बैठक में कही। उन्होंने कहा कि शिक्षा सभी बच्चों का अधिकार है इस लिए 06 वर्ष से 14 वर्ष तक के छूटे हुए सभी बच्चों का नामांकन विद्यालयों में कराया जाये। इसके लिये खण्ड शिक्षाअधिकारी/शिक्षामित्र क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष/बीडीसी सदस्यों तथा ग्राम प्रधानों से मिल कर बैठक करके उनका सहयोग बच्चो के नामांकन कराने में लें, और सभी बच्चों का नामांकन कराना सुनिश्चित करें।

इसी तरह जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी/जनपदीय अधिकारियों द्वारा जनप्रतिनिधियों  सांसद सदस्य, विधायकगण, अध्यक्ष जिलापंचायत एवं जिला पंचायत सदस्यों से बच्चों के नामांकन प्रक्रिया में सहयोग के लिये सम्पर्क कर कार्यवाही सुनिश्चित कराये। विकास खण्ड, ग्राम/वार्ड एवं विद्यालय स्तर पर स्कूल चलो अभियान के सम्बन्ध में मेले, गोष्ठियां, रैली, प्रभात फेरी एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजन के माध्यम से अभिभावकों को पे्ररित कर नामांकन करायें।

जनपद में जो वाहन स्कूल चलो अभियान में रथ के रूप में ब्लाकों/शहरी क्षेत्रों में चलाया जाना है उसे बैनर, एवं लाउडस्पीकर सहित पूरीसाज-सज्जा के साथ दिनांक 15 जुलाई को अनिवार्य रूप से नागरिकों को जागरूक करने के लिये चला दें। इसमें ड्यूटी में लगाये जिलाधिकारी ने कहा कि यदि स्कूल चलो अभियान में जिस भी ब्लॉक के बच्चों का नामांकन शेष रह जायेगा। वहां के खण्ड शिक्षा अधिकारी को दोषी मानते हुए कठोर कार्यवाही की जायेगी। इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अल्पना बरतारिया, जिलापंचायत राज अधिकारी राजबहादुर, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कमलेश कुमार ओझा एवं समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी उपस्थित रहे।



चर्चित खबरें