?> बिना परीक्षा दिए पास हो रहे साईं कॉलेज ऑफ लॉ के विद्यार्थी बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ महोबा स्थित साईं कॉलेज ऑफ लॉ का भांडा फूटने का सिलसिल"/>

बिना परीक्षा दिए पास हो रहे साईं कॉलेज ऑफ लॉ के विद्यार्थी

महोबा स्थित साईं कॉलेज ऑफ लॉ का भांडा फूटने का सिलसिला जारी है बीते दिनों जिधर कॉलेज में विधि संकाय में खुलेआम सामूहिक नकल को लेकर कॉलेज चर्चित रहा वहीं अब एक और बड़ा खुलासा सामने निकल कर आया है जिसके मुताबिक कॉलेज के प्रशासनिक अधिकारी के साथ ही अब प्रशासनिक विभाग के लिपिक द्वारा भी दूसरे किसी व्यक्ति से कॉपी लिखवाने की बात सामने आई है।

गौरतलब है कि बीते दिनों कॉलेज के ही छात्र तेजप्रताप यादव द्वारा नकल का खुलासा किया गया था और उसको जान से मारने की धमकी भी दी गयी थी, तेजप्रताप बताते हैं कि अरविंद कुमार सिंह का रोल नंबर सीटिंग प्लान के हिसाब से तेजप्रताप के ठीक पीछे था और अरविंद ने कभी भी कोई पेपर नहीं दिया और फिर भी पांचवें सेमेस्टर तक पास होता आ रहा है और इस बार भी पास हो गया, वहीं दूसरी तरफ कॉलेज के प्रशासनिक अधिकारी गोपाल पालीवाल ने कभी परीक्षा नहीं दी और हमेशा पास होते जा रहे हैं इसके अलावा अब मुन्नाभाई बने प्रशासनिक लिपिक संजय परमार भी इसी में शामिल हैं और इन्होंने कभी कोई भी परीक्षा नहीं दी और पास होते आ रहे हैं।

वहीं डीआईओएस विधि नारायण ने स्वीकार किया है कि उनके निरीक्षण के दौरान कॉलेज में 2 कमरों में छात्र छात्राएं परीक्षा दे रहे थे वहीं एक कमरे में सिर्फ 4 लोग बैठकर कॉपी लिख रहे थे।

इस मामले में संजय परमार से जब बात की तो उन्होंने गुस्से में आकर फ़ोन काट दिया और कॉलेज में बात करने के लिए कहा लेकिन इस बड़े प्रकरण ने कॉलेज के रवैये और बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के उड़न दस्ते की कार्यशैली पर प्रश्न चिन्ह उठा दिए हैं।