लगता है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ही नहीं उनके मंत्री भी अपना संत"/>

पत्रकारों के सवालों पर आपे से बाहर हुए आप के मंत्री

लगता है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ही नहीं उनके मंत्री भी अपना संतुलन खो बैठंे हैं। हकीकत का सामना करने से कतराने वाली आप पार्टी वैसे भी अपनी गैर जिम्मेदारन बयानबाजी के लिए मशहूर है। जिसे जनता अब भलीभांति समझने लगी है। वहीं, आप के मंत्री से जब कोई प्रश्न पूछा जाता है तो वह आपे से बाहर होकर भडक उठते  हैं। यही नहीं पत्रकार वार्ता में पत्रकारो पर ही मानहानि का मुकदमा दायर  करने की धमकी तक देने लगते। ऐसा की नजरा शुक्रवार को झांसी जनपद में चल रहे जैन धर्म के यति सम्मेलन में भाग लेने आये दिल्ली में आम आदमी पार्टी के एक मंत्री से बातचीत के दौरान देखने को मिला।

आप पार्टी के लोकनिर्माण मंत्री सतेन्द्र जैन शुक्रवार को करगुवां जी में धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने आये। यहां पर आयोजित पत्रकार वार्ता में जब पत्रकारों ने कपिल मिश्रा के संबध में प्रश्न किया तो उनका कहना था कि कपिल हमारे दोस्त हैं और उन्हें जब मंत्री पद से हटाया गया तो पार्टी में अनेक कमियां उन्हें नजर आने लगी। इनकी इस करतूत को लेकर मैने उन पर मानिहानि का मुकदमा दायर किया है। इसी प्रकार एक और प्रश्न पूछने पर मंत्री महोदय अचानक भडक उठे।

और वार्ता में ही पत्रकारों पर मानहानि का मुकदमा दायर करने की धमकी देने लगे। बाद में वह पत्रकारों के किसी भी प्रश्न का उत्तर देने से परहेज करते नजर आये। उन्होंने कहा कि वह धार्मिक कार्यक्रम में आये हैं लिहाजा राजनीति कि कोई बात न की जाए।  

 



चर्चित खबरें