?> क्या बुन्देलखण्ड के इस खली से मिले है आप बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ बुन्देलखण्ड की धरती का शौर्य और वीरता को पूरी दुनिया "/>

क्या बुन्देलखण्ड के इस खली से मिले है आप

बुन्देलखण्ड की धरती का शौर्य और वीरता को पूरी दुनिया ने ही देखा है । इस धरती में अनेकों वीरों ने जन्म लिया है । आज हम आपको एक ऐसे ही शक्स के बारे में बता रहें है । जिनकी तुलना इस समय पर श्द ग्रेट खलीश् से की जा रही हैए बुन्देलखण्ड के खली कहे जाने वाले इस शक्स का नाम रामकृपाल उर्फ नंदू विश्वकर्मा है ।

नंदू छतरपुर जिले के बड़ामलहरा ब्लॉक की घुवारा तहसील के मड़ीखेरा गांव के रहने वाले है । 32 साल के हो चुके इस खली का कद 7 फीट 2 इंच से ज्यादा और वजन लगभग 120 किलो! यह और बात है कि इन्हें इस खूबी के बावजूद श्द ग्रेट खलीश् की तरह कामयाबी नहीं मिली। ये गुमनामी की जिंदगी जी रहे हैं। यह हैं ।

महाबली खली की तरह दिखने वाले नंदू विश्वकर्मा पेशे से मकान निर्माण में मिस्त्री है उसी के आधार पर वो अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं।

नंदू का कहना है कि 12 साल की उम्र से उसकी लंबाई अचानक बढ़ी और 20 साल की उम्र में वह 7 फीट से ऊपर पहुंच गई। बेतहाशा लंबाई हो जाने के साथ उसके पैर के पंजे एक फीट एक इंच लंबे हैंए उसे जूते स्पेशल रूप से बनवाने पड़ते हैं।
नंदू के मुताबिकए उसकी हथेली 11 इंच की है। नंदू की खुराक भी अधिक हैए वह दिन में 2 किलो आटा की रोटियां खा जाते हैं। इतनी ही सब्जी उसकी भूख मिटाने के लिए लगती है।

नंदू का कहना है कि जब लोग कहते हैं कि वह द ग्रेट खली की तरह दिखता हैए तो सुनकर अच्छा लगता है। उसने खली को फोटो सहित पत्र लिखकर मिलने की इच्छा भी जाहिर की । वह टीवी पर आना चाहता है।

नंदू बताते है कि लंबाई व असामान्य कद काठी के चलते वह शादी के लिए काफी परेशान था। काफी प्रयास करने के बाद कोई लड़की वाला उसकी शादी करने को तैयार नहीं था। इस पर वह चार साल पहले दिल्ली से उड़ीसा गया। वहां सामान्य कदकाठी की समंत्रा देवी नाम की लड़की उससे शादी करने को तैयार हो गई। समंत्रा से विवाह कर नंदू काफी खुश हैए उसके एक 2 साल की बेटी रामदेवी है।

 



चर्चित खबरें