मध्यप्रदेश क"/>

प्रमुख सचिव जुलानियाँ के निर्देशों की धज्जियाँ उड़ाकर सरपंच ने बनाई सी सी रोड

मध्यप्रदेश के तेज तर्रार आई ए एस ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख राधेश्याम जुलानियाँ द्वारा सीसी रोड निर्माण के लिए दिए निर्देशों को पलीता लगाकर पुराना पन्ना ग्राम पंचायत के सरपंच ने सी सी रोड बनाकर राशि निकाल ली। उक्त सी सी रोड ग्रामपंचायत पुराना पन्ना ऑन लाइन रिकॉर्ड में नौशाद खान के घर से इम्तियाज खान के घर तक दर्शित हो रही है।

एस्टीमेट के अनुसार इसकी लागत 5 लाख रूपये जिसमें साढ़े तीन लाख 14 वें वित्त मद से और डेढ़ लाख मनरेगा से प्रावधान किया गया है साथ में नाली निर्माण भी आवश्यक रूप से कराना है। गौरतलब है कि सी सी रोड निर्माण के नए मापदण्ड ए सी एस जुलानियाँ जी ने तय किये हैं जिसके अनुसार सबसे नीचे मुरुम का बेस बनाकर रोलिंग की जानी है।

उसके ऊपर 40 मिमी गिट्टी से कंक्रीट दस सेमी मोटाई में डालकर वाईब्रेटर चलाना है इसके बाद 20 मिमी की गिट्टी से 1रू2रू4 की कंक्रीट दस सेमी मोटाई में डालना है।कुल मिलाकर 20 सेमी मोटी कंक्रीट डाली जाना है।स्थल पर जब पत्रकारों ने निरीक्षण किया तो सीसी रोड में 150 मिमी साइज के बोल्डर बो भी सूखे बिछाकर उसके ऊपर सिर्फ 5 सेमी मोटी कंक्रीट डाली गई है।इस तरह जुलानियाँ जी के निर्देशों की पुराना पन्ना सरपंच ने धज्जियाँ उड़ा दी हैं।

मिडिया स्टेशनरी फर्म के नाम से बिल लगाकर निकली राशि--जनपद के अधिकारियों की नाक के नीचे फोटोकॉपी और स्टेशनरी की दुकान चलाने वाले के नाम से सरपंच ने सी सी रोड सह नाली निर्माण नौशाद के घर से इम्तियाज के घर तक में ईपीओ नम्बर 976553 बिल क्रमांक 16 दिनाँक 6मार्च 2017 मिडिया ट्रेडर्ड के नाम दो लाख नब्बे हजार की राशि निकाल ली।इसके अलावा ई पी ओ नम्बर 1024133 बिल क्रमांक 26 दिनाँक 31मार्च 2017 मीडिया ट्रेडर्स के नाम से 45000 रूपये आहरित किये है।

समतलीकरण के नाम पर फर्जीबाड़ा-परत दर परत भ्रष्टाचार करते हुए पुराना पन्ना सरपंच ने समतलीकरण के नाम पर लाखों रूपये डकार लिए हैं जब कि पँचायत में कहीं भी समतलीकरण नहीं हुआ है जबकि ई पी ओ क्रमांक 1023640, 1023646 के द्वारा ऑनलाइन राशि आहरण किया गया है। जिले की ईमानदार कलेक्टर जे पी आइरीन सिंथिया से अपेक्षा है कि पुराना पन्ना सरपंच द्वारा बनाई घटिया रोड की जाँच पी डब्ल्यू डी के अधिकारियों से कराकर सरपंच को धारा 40 के तहत पद से पृथक कर शासकीय राशि के गबन का मामला दर्ज किया जाये।



चर्चित खबरें