< प्रबोध बुन्देलखण्ड महाकाव्य बुन्देला राजवंश पन्ना को सप्रेम भेंट Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News दिनांक 16.05.2017 स्थानीय श्री जगदीश स्वामी मंदिर में श्री "/>

प्रबोध बुन्देलखण्ड महाकाव्य बुन्देला राजवंश पन्ना को सप्रेम भेंट

दिनांक 16.05.2017 स्थानीय श्री जगदीश स्वामी मंदिर में श्री राघवेन्द्र सिंह जू देव महाराजा पन्ना के मुख्य अतिथ्य श्री मोहनलाल कुशवाहा अध्यक्ष नगरपालिका पन्ना की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में प्रबोध बुन्देलखण्ड महाकाव्य महाराजा पन्ना का सप्रेम भेंट किया गया। महाकाव्य पर प्रकाश डालते हुये डाॅ. संतशरण सिंह राठौर प्रोफेसर पी.जी. कालेज पन्ना ने कहा कि इस रचना में बुन्देलखण्ड का हर पहलू समाहित है।

इसी क्रम में प्रबोध बुन्देलखण्ड महाकाव्य को सीनियर एडवोकेट सुरेन्द्र सिंह परमार ने ज्ञानियों के ज्ञान में सर्वोत्तम कृति बताया है। अध्यक्ष मोहन लाल जी ने अपने अध्यक्षीय उद्वोधन में इस महाकाव्य को बुन्देली बोली में रचित अद्वितीय महाकाव्य की संज्ञा दी है। महाराजा पन्ना श्री राघवेन्द्र सिंह जू देव द्वारा अथक परिश्रम से रचे गये प्रबोध बुन्देलखण्ड महाकाव्य एवं रचनाकार श्री जगदीश कुमार कुशवाहा ‘प्रबोध कवि‘ की भूरि भूरि प्रशंसा की।

कार्यक्रम का शुभारंभ श्रीमती रमा शुक्ला द्वारा महाराजा छत्रसाल वंदना वाचन से हुआ। कार्यक्रम में संगीतज्ञ श्री जनार्दन खरे, श्री गोविंद यदुवंशी, श्री लक्ष्मी नारायण चिरौल्या, श्री बिहारी दुबे, श्री किशोरी बाबू, श्री रामआसरे सोनी, श्री गंगा प्रसाद खरे, श्री बद्री प्रसाद तिवारी, श्री बिहारी सिंह, प्रबोध कवि के ज्येष्ठ पुत्र रंजीतसिंह एडवोकेट श्री राकेश गोस्वामी, राजकुमार वर्मा कुशल संचालक, श्री गंगा सिंह, श्री नाथूराम यादव, महादेव प्रसाद, श्रीमती परमार एवं प्रबोध कवि की पुत्र बधू मीना सिंह सहित नगर के सभी साहित्यकार मौजूद रहे हैं। कार्यक्रम आयोजन श्री दिनेश गोस्वामी ने किया एवं सफल संचालन नगर के जाने माने कवि श्री एस. कुमार चनपुरिया द्वारा किया गया।

 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें