?> शिक्षक ने किया शिक्षा का सौदा, छात्रा से ली 1 हजार की रिश्वत बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ हटा के एमएलबी स्कूल की दो छात्राओ के बोर्ड परीक्षा मे"/>

शिक्षक ने किया शिक्षा का सौदा, छात्रा से ली 1 हजार की रिश्वत

हटा के एमएलबी स्कूल की दो छात्राओ के बोर्ड परीक्षा में अव्वल आने पर दो दिन पहले वाह वाही बटोरने वाले प्राचार्य एलएस ठाकुर सोमवार को एक हजार रुपए की रिश्वत लेते गए  सागर की लोकायुक्त पुलिस ने किया रंगे हाथों गिरतार ।

दरअसल प्राचार्य की ये हरकत आपको भी सोचने पर मजबूर कर देगी कक्षा 11 वीं की छात्रा साक्षी ताम्रकार से प्राचार्य एलएस ठाकुर ने मुख्य परीक्षा में पास कराने के लिए 4 हजार रुपए की मांग की थी। छात्रा के पिता राजेश ताम्रकार ने उक्त राशि नहीं दी तो छात्रा को पांच विषयों में फेल कर दिया गया। इसके बाद छात्रा का पिता फिर प्राचार्य से मिला और फिर 4 हजार रुपए में पुर्नमूल्यांकन के माध्यम से पास कराने का सौदा तय हुआ। इस बीच छात्रा के पिता ने सागर लोकायुक्त पुलिस से संपर्क करके 8 मई को शिकायत दर्ज करा दी।
लोकायुक्त पुलिस ने भी अपना जाल बिछाया, जिसमें लालची और शिक्षा का सौदा करने वाला हटा के एमएलबी प्राचार्य एल एस ठाकुर फंसते चले गए। सोमवार को एक हजार रुपए अग्रिम लेकर राजेश ने एलएस ठाकुर केे हाथ में दे दिए। इसके बाद लोकायुक्त टीम ने चैंबर में दाखिल होकर प्राचार्य के हाथ कैमिकल से धुलवाएं ।नोट में लगे कैमिकल के निशान उनकी अंगुलियों ने छोड़ते हुए रिश्वत लेने की गवाही के साथ आरोपी बना दिया।

इसके बाद लोकायुक्त पुलिस ने पूरी कार्रवाई प्राचार्य के चैंबर में बैठकर ही की।
इस कार्रवाई में लोकायुक्त टीआई विजय सिंह परस्ते, उपमा सिंह, आरक्षक आशुतोष व्यास, सोनू तिवारी, अरविंद नायक, यशवंत सिंह, सुरेंद्र सिंह, मनोज कोरकू की मौजूदगी रही। छात्रा के पिता राजेश ताम्रकार ने कहा कि उन्हें इस बात का दुख हुआ कि उनकी पुत्री को 4 हजार रुपए न देने पर फेल कर दिया, जिस कारण उन्हें लोकायुक्त तक जाने के लिए मजबूर होना पड़ा। वहीं प्राचार्य एलएस ठाकुर अपने बचाव में कह रहे थे कि उन्हें षड्यंत्र के तहत फंसाया गया है।