?> बुन्देली सेना ने दूसरे दिन मंदाकिनी से निकाला कचरा बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ बुन्देली सेना के चलाये जा रहे सफाई अभियान के दूसरे दि"/>

बुन्देली सेना ने दूसरे दिन मंदाकिनी से निकाला कचरा

बुन्देली सेना के चलाये जा रहे सफाई अभियान के दूसरे दिन बडे पैमाने पर कचरा देवगंगा मंदाकिनी नदी के बाहर किया गया। बताया कि रामघाट में नयागांव चेकडैम रपटे से लेकर बूढे हनुमान जी मंदिर तक नदी में भीषण गंदगी है। जिसकी सफाई आज तक नहीं हो सकी। घाट को स्वच्छ और निर्मल बनाने का बीडा उठाया है।

बुन्देली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह ने बताया कि इसके पूर्व कर्वी स्थित घाटो में 55 दिनों तक नदी की सफाई की थी। इस बार सफाई के लिये नदी के सबसे अधिक गंदगी वाले क्षेत्र को चुना गया है। रामघाट में नया गांव रपटे से बूढे हनुमान मंदिर तक नदी भयंकर प्रदूषण से कराह रही है। जिसे प्रदूषणमुक्त करने का संकल्प बुन्देली सेना ने लिया है। उन्होंने बताया कि आगामी सप्ताह तक अनवरत सफाई अभियान चलेगा। इसके बाद रपटे से आगे तक नदी की सफाई होगी।

उन्होंने कहा कि लोग नदी सफाई में लगातार हौसलाआफजाई कर रहे हैं। सोमवार को सफाई कार्य के दूसरे दिन नदी से बडे पैमाने पर गोद, चोई, पालीथीन थैलिया एवं अन्य गंदगी नदी से बाहर की गई। बताया कि गत दिवस जिस घाट की सफाई हुई थी वहां सैकडों लोग प्रतिदिन स्नान करते हैं। नदी घाट में सफाई देखकर लोगों ने अभियान की सराहना की।

जिलाध्यक्ष ने लोगों ने मंदाकिनी में गंदगी न फैलाने, मछलियो के शिकार पर प्रतिबंध और नदी में सीधे गिर रहे नालों की रोकथाम के लिये ठोस कार्य योजना बनाये जाने की मांग केन्द्र व प्रदेश सरकार से की है। सफाई दौरान बीपी पटेल एड, बद्री सिंह, सुरेन्द्र सिंह, अतुल सिंह, गजेन्द्र सिंह, फूलचन्द्र सिंह, अशोक अग्रवाल समेत कई युवा शामिल रहे। बताया कि इस अभियान के लिये व्यापारी विजयशंकर श्रीवास्तव, जानकी सिंह, संतू सिंह ने आर्थिक सहयोग देकर सफाई अभियान में लगे लोगों का मनोबल बढ़ाया है।