?> समाज में गौरक्षक की शक्ल में गुंडे बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ गोरक्षा के ना"/>

समाज में गौरक्षक की शक्ल में गुंडे

गोरक्षा के नाम पर उत्तर प्रदेश में कुछ लोग अत्याचार कर रहे हैं. एक दिन पहले उन्होंने अलीगढ़ में पुलिस के सामने लोगों को पीटा। तो दो दिन पहले ग्रेटर नोएडा में किसानों को धुन दिया गया। पिटने वाले किसान हिन्दू थे। गाय लेकर जा रहे थे। लेकिन गोरक्षकों ने उऩकी एक नहीं सुनी। ऐसे में किसान पूछ रहे हैं कि ऐसे गोरक्षकों से सरकार कब बचाएगी।

यूपी में गोरक्षा के नाम पर गुंडों का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. गाय पालना और रखना भी मौत का सबब बनता जा रहा है। इनके लिए इंसान की कोई कीमत नहीं। ये जब चाहे जहां चाहें किसी को भी मार सकते हैं। खुलेआम कत्ल कर सकते हैं। कानून भी इनके सामने बोना दिखाई दे रहा है। पुलिस इन तथाकथित गौरक्षक आतंकियों से खौफ खाती है। सरकार इनकी तरफ से आंखें मूंदे बैठी है।

अलीगढ में एक दिन पहले ही अवैध पशु काटने के नाम पर इन गौरक्षक आतंकियों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस को सूचना मिली थी कि एक स्थान पर अवैध कटाई की जा रही है। कुछ लोग भैंस काट रहे हैं. पुलिस वहां अवैध कटाई रोकने के लिए पहुंची तो पीछे से धर्म के ठेकेदार गौरक्षक भी पहुंच गए।

गोरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी का ये पहला मामला नहीं है। गुजरात के उना और झारखंड के लातेहर में भी ऐसे मामले सामने आए हैं। दादरी कांड में अखलाक नाम के शख्स को घर से निकालकर मारा गया, क्योंकि कुछ लोगों को शक था कि उनके घर में गाय का मांस है। इस घटना के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने खुद ऐसे कथित गोरक्षकों को कड़ी चेतावनी दी थी।



चर्चित खबरें