< झांसी से बांदा जा रही बस को प्रशासन ने रुकवा कर कराई सभी की जाँच Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News महोबा,

जनता कर्फ्यू के दौरान बा"/>

झांसी से बांदा जा रही बस को प्रशासन ने रुकवा कर कराई सभी की जाँच

महोबा,

जनता कर्फ्यू के दौरान बाहरी लोगों के बस में सवार होकर गुजरने से लोगों में हड़कंप मच गया। बस झांसी से बांदा जा रही थी जिसे एसडीएम के निर्देश पर महोबा रोडवेज के एआरएम ने रुकवा लिया।

बस में सवार सभी 94 श्रमिकों का जिला अस्पताल में परीक्षण कराया गया। अस्पताल के बाहर जांच के लिए लंबी कतार में लोगों के लगे होने से अफरा-तफरी मच गई। हालांकि जांच में किसी भी व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले।

यह भी पढ़ें : बांदा में संभावित दो और मरीज आए, संख्या बढकर 5 हुई

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुंबई में मेहनत-मजदूरी के साथ विभिन्न प्राइवेट कंपनियों में काम करने वाले लोग अपने घरों को वापस लौट रहे हैं। इसी तरह शनिवार को मुंबई से एक सैकड़ा श्रमिक ट्रेन से झांसी लौटे। रविवार को सभी श्रमिक झांसी डिपो की बस से बांदा के लिए जाने लगे।

यह भी पढ़ें :एक लाख से अधिक रेलवे टिकट निरस्त करेगा, झांसी मण्डल

कुलपहाड़ कस्बे के लोगों ने एसडीएम को बाहरी लोगों के जिले में आने पर सूचना दे दी। एसडीएम कुलपहाड़ मोहम्मद उवैस ने बस को महोबा में रोके जाने के निर्देश रोडवेज के एआरएम को दिए। एआरएम एके जैन ने शहर के परमानंद चैराहे के समीप बस को रुकवा लिया।

यह भी पढ़ें :बुन्देलखण्ड के सभी जिलों में जनता कर्फ्यू के दौरान पसरा सन्नाटा, शाम 5 बजे बजाया घंटी-घंटा

बस को बाद में जिला अस्पताल के गेट पर खड़ा कराया गया। सीएमओ डॉ. सुमन के निर्देशन में डॉक्टरों की टीम ने बस में सवार 94 श्रमिकों की जांच की। अस्पताल के बाहर लंबी कतारों में जांच के लिए लगे श्रमिकों को देखकर लोगों में हड़कंप मचा रहा। एआरएम ने बताया कि झांसी से बस बांदा जा रही थी। जिसे एसडीएम के आदेश पर रोककर उसमें सवार लोगों की जांच के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने बताया कि सभी मरीजों का परीक्षण किया गया। किसी भी मरीज में कोरोना के लक्षण नहीं मिले।

अन्य खबर

चर्चित खबरें