< कैसे मजबूत होगा, समाज हित में सोशल मीडिया का संपादकीय पक्ष Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News सागर

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रका"/>

कैसे मजबूत होगा, समाज हित में सोशल मीडिया का संपादकीय पक्ष

सागर

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय भोपाल ने सागर में रतौना आंदोलन के शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में एक विशेष व्याख्यान का आयोजन किया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए दैनिक भास्कर के सेटेलाइट प्रमुख श्री शिव कुमार विवेक ने कहा कि वर्तमान में सोशल मीडिया ताकतवर जरूर है, लेकिन इसके संपादकीय पक्ष को समाज हित में मजबूत करने की आवश्यकता है, जिससे समाज में जाने वाली सूचनाओं पर विचार और एजेंडे को नियंत्रित किया जा सके। कार्यक्रम के आयोजक संस्थान माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय भोपाल के कुलपति दीपक तिवारी ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि विश्वविद्यालय दादा माखनलाल की आदर्श पत्रकारिता के स्तर और ध्येय को प्राप्त करने के लिए कार्यरत है। विश्वविद्यालय सोशल मीडिया में आई विसंगतियों और चुनौतियों को दूर करने के लिए भविष्य में वर्कशॉप जैसे कार्यक्रम आयोजित करेगा।

कार्यक्रम में रतौना आंदोलन के नायक और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अब्दुल गनी के सुपुत्र रफीक गनी ने रतौना आंदोलन और इसमें अब्दुल गनी के संघर्ष की पूरी कहानी बयां की। उन्होंने कहा कि भाई अब्दुल गनी खान इसलिए गोवंश की रक्षा के लिए अपना सर कटाने के लिए तैयार थे, क्योंकि वह दूसरे धर्म की आस्था का सम्मान करते थे।

कार्यक्रम में वरिष्ठ अधिवक्ता चतुर्भुज सिंह राजपूत ने अब्दुल गनी के एक प्रसंग का जिक्र करते हुए बताया कि अब्दुल गनी के अब्बू ने ही उन्हें प्रेरणा दी थी, कि दूसरे धर्म की आस्था और प्रतीकों का सम्मान ही सच्ची धार्मिकता है, इन्हीं आदर्श और संस्कार की वजह से अब्दुल गनी हिन्दुओं की आस्था के मुद्दे पर महा कतलखाने के विरोध के अगुआ बने और सामुदायिक सौहार्द कि मिशाल पेश की।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय द्वारा लगाई गई महात्मा गांधी के आदर्श और संघर्षमयी जीवन यात्रा को अभिव्यक्त करने वाले दुर्लभ चित्रों की एक पोस्टर प्रदर्शनी आकर्षण का केंद्र रही, इस प्रदर्शनी में विद्यार्थियों, युवाओं और गणमान्य नागरिको ने राष्ट्रपिता के अनजाने पहलुओं को जाना।

कार्यक्रम में सागर नगर के गणमान्य नागरिक पत्रकार बंधु, विद्यार्थी एवम् विश्वविद्यालय के कुलसचिव दीपेंद्र बघेल परीक्षा नियंत्रक डॉ राजेश पाठक एवं सहायक कुलसचिव श्री विवेक सावरकर भी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन विवेक सावरकर ने किया एवं समापन के उपरांत आभार कुलसचिव दीपेंद्र बघेल ने व्यक्त किया।

अन्य खबर

चर्चित खबरें