< झांसी में जल्द बन सकता एयरर्पोट, एएआई ने मांगी रिर्पोट Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News झांसी,

लम्बे समय के इंतजार के "/>

झांसी में जल्द बन सकता एयरर्पोट, एएआई ने मांगी रिर्पोट

झांसी,

लम्बे समय के इंतजार के बाद हवा में तैर रही हवाई अड्डे की परियोजना के धरातल पर उतरने की आस जग गई है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने  रिपोर्ट मांगी है। लखनऊ में अयोजित हुए डिफेंस एक्सपों2020 में डिफेंस कॉरिडोर के एमओयू साइन होने के बाद हवाई अड्डे की स्थापना के कार्यो में तेजी आयी हे। इसी क्रम में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने इसके लिए चिह्नित किए गए दोनों स्थानों की जिला प्रशासन से तुलनात्मक रिपोर्ट मांगी है। जल्द ही इनमें से एक स्थान का चयन कर स्थापना का काम शुरू कर दिया जाएगा।

दरअसल पिछले कई सालों से हवाई अड्डे की स्थापना की कवायद चली आ रही है। मगर, केंद्र सरकार की ‘उड़ान’ योजना के दूसरे चरण में झांसी को शामिल किए जाने के बाद तीन साल पहले इस परियोजना ने तेजी पकड़ ली थी। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीम ने इसके लिए ग्राम सफा में चिह्नित की गई जमीन तथा ग्वालियर मार्ग पर स्थित सेना की हवाई पट्टी का निरीक्षण किया था। लेकिन, इसके बाद मामला ठंडे बस्ते में चला गया था। हवाई अड्डे की परियोजना हवा में ही अटक कर रह गई थी। 

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने इसके लिए चिह्नित किए गए दोनों स्थानों की तुलनात्मक रिपोर्ट जिला प्रशासन से मांगी है। ये तेजी डिफेंस कॉरिडोर के एमओयू साइन होने के बाद आई है। क्योंकि, डिफेंस कॉरिडोर के लिए हवाई अड्डे को आवश्यक सेवा माना जा रहा है। इसके बन जाने से उद्यमियों का आनाजाना आसान हो जाएगा।

दोनों स्थानों की तुलनात्मक रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया किसी एक स्थान पर मुहर लगा देगी। इसके बाद ही एयरर्पोट बनाने की दिशा में काम होगा।

इस बारें में एसडीएम संजीव कुमार मौर्य ने बताया कि एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने हवाई अड्डे के लिए प्रस्तावित दोनों स्थानों की तुलनात्मक रिपोर्ट मांगी है। इस रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद मुफीद पाए जाने पर इनमें से किसी एक स्थान हवाई अड्डे की स्थापना होगी।

अन्य खबर

चर्चित खबरें