प्रेमी प्रेमिका को बांधकर लगाया करेंट

हमीरपुर,

घर वालो से दूसरी जगह शादी की बात सुनकर आहत हुई प्रेमिका घर से भागकर प्रेमी के पास पहुंच गई। जानकारी मिलने पर परिजन प्रेमी व प्रेमिका को ढूंढ कर उन्हें बंधक बनाकर महोबा ले गए। जहां एक नलकूप में दोनों को करंट लगाया जिससे दोनो बेहोश हो गये। बेहोशी की हालत में उन्हें मरा समझकर आरोपी भाग निकले। होश आने पर युवक अपनी प्रेमिका संग अपने गांव आया और सोमवार को एसपी को शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई।

मामल चिकासी थानाक्षेत्र के अतराबरौली खरका का है जहां दीपक पुत्र भवानीदीन ने सोमवार को एसपी श्लोक कुमार को दिए शिकायती पत्र में बताया कि वह जनपद महोबा कोतवाली के एक गांव में अपनी बुआ के पास रहता है। वहां उसका बिरादरी की एक युवती से तीन साल से प्रेम प्रसंग चल रहा है। दोनों शादी करना चाहते हैं। मगर युवती के परिजन उसकी शादी दूसरी जगह कर रहे हैं। युवती ने जब शादी से इंनकार किया तो परिजनों ने उसे मारा पीटा। इससे परेशान युवती 29 जनवरी को भागकर प्रमी के पास आ गई। युवक ने बताया उसके पिता गुजर चुके हैं, जबकि मां दिल्ली में मजदूरी करतीं हैं।

 30 जनवरी को रात में जब वह दोनों घर के बाहर बैठे थे तभी दो बाइकों से रात करीब नौ बजे शोधन पुत्र छिद्दू निवासी बम्हौरी, धर्मेंद्र पुत्र शिवराम निवासी गुढ़ा, नितिन निवासी बसोवा व लक्ष्मण पुत्र शिवराम निवासी गुढ़ा आ गए। बताया उन दोनों को घर से जबरन महोबा लिवाकर ले गए। बताया मझलवारा व सूपा गांव के बीच स्थित एक ट्यूबवेल में ले जाकर जान से मारने की नियत से दोनों को बिजली का करंट लगाया। जिसमें वह दोनों बेहोश हो गए।

बेहोश होने पर उन्हें मरा समझकर उक्त लोग भाग गए। दोनों के पैरों में करंट लगाने से जख्म हैं। एसपी से शिकायत के बाद घायल प्रेमी युगल को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चिकासी थानाध्यक्ष आरके पटेल ने बताया घटनास्थल महोबा जिले में है। इस पर कार्रवाई वहीं होगी।