< वनों का दोहन व जल के दुरुपयोग से पर्यावरण को खतरा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा,

10 वें राष"/>

वनों का दोहन व जल के दुरुपयोग से पर्यावरण को खतरा

बांदा,

10 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर मतदाता साक्षरता क्लब द्वारा आज जल संरक्षण एवं वन विषयक पोस्टर पोस्टर प्रतियोगिता एवं गोष्ठी का आयोजन राजीव गांधी डी.ए.वी. महाविद्यालय में किया गया। गोष्टी में महाविद्यालय के प्राचार्य राम भरत सिंह तोमर ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आधुनिक युग में स्वच्छ जल व वायु मूलभूत आवश्यकता है, इसलिए पर्यावरण को बचाने के लिए अत्याधिक पौध रोपित करना चाहिए।

इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद बुन्देलखण्ड कनेक्ट के संपादक सचिन चतुर्वेदी ने छात्रों द्वारा बनाए गए पोस्टरों का निरीक्षण किया और उनकी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक छात्र ने विषय वस्तु के अनुसार अपनी कल्पना को चित्रित करने का प्रयास किया है, जो सराहनीय है।

बागवान चैरिटेबल ट्रस्ट के संचालक पंकज बागवान ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक छात्र अपने जन्मदिन पर कम से कम एक पौधा रोपित कर उसे संरक्षित करें। वृक्षारोपण से ही प्रकृति को संतुलित किया जा सकता है। इसी तरह समाजसेवी पुष्पेंद्र भाई ने कहा कि वर्तमान समय में कई स्थानों में जल की गंभीर समस्या है, जिसे आधुनिक विधियों को अपनाकर जल संचित किया जा सकता है।

उन्होंने राजस्थान का उदाहरण देते हुए बताया कि वहां रेगिस्तान होने के बाद भी प्रत्येक परिवार अपने दैनिक उपयोग में भी प्रयुक्त पानी का संचय कर उसके माध्यम से अपनी आसपास के वातावरण को हरा-भरा रखते हैं। इस अवसर पर बुन्देलखण्ड कनेक्ट के प्रबंधक संजय निगम अकेला ने कहा कि ऐसी प्रतियोगिताओं के माध्यम से समाज को एक दिशा तथा प्रकृति को समझने का अवसर मिलता है। इससे बच्चों में संवेदना जागृत होती है। प्रतियोगिता प्रभारी मनोज कुमार एवं उत्तम सिंह द्वारा छात्र-छात्राओं को मतदान के प्रति जागरूक किया गया। उक्त प्रतियोगिता में 23 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।

अन्य खबर

चर्चित खबरें