< नए साल पर जनपद को मिलेगी विकास की सौगात Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जालौन,

नए साल की सुबह अप"/>

नए साल पर जनपद को मिलेगी विकास की सौगात

जालौन,

नए साल की सुबह अपने साथ उम्मीदों का पिटारा लेकर आयी है। इन उम्मीदों से यहां के लोगों को जनपद के विकास को रफ्तार और सुविधाओं की सौगात मिलने की उम्मीदे है। इनमें सड़क, पानी, पुल और गोशालाओं की संख्या बढ़ेगी। वहीं रेलवे भी शहर के लोगों के लिए स्टेशन के ठीक सामने 40 करोड़ का कांप्लेक्स बन रहा है, जिसके साल 2020 में पूरा होने की पूरी संभावना है। इन्हीं उम्मीदों पर सभी को साल 2020 की पहली सुबह का बेसब्री से इंतजार है, भले ही वह सुबह सर्द व कोहरे में लिपटी हुई क्यों न हो, लेकिन हर किसी को लग रहा है कि कोहरा छंटेगा तो विकास का सूरज उनके जनपद को चमका देगा। सालों पुराने जाम से मिलेगी निजात

जो लोंग कानपुर-झांसी के बीच आवागमन करते है उन लोंगो को सालों से कालपी हाईवे पर भीषण जाम का सामना करना पड़ा है। स्थिति यह है कि अधूरे हाईवे पर एक किमी. की वह दूरी जिसे तय करने में मिनटों का समय लगता है, कभी-कभी तो उससे पार पाने में पूरी-पूरी रात वाहन सवारों को अपनी गाड़ियों में ही गुजारनी पड़ जाती है। आने वाले साल फरवरी नहीं तो मार्च माह में कालपी में 0.77 किमी. का ओवरब्रिज तैयार मिलेगा। जिससे सालों पुरानी जाम की समस्या खत्म होगी। ओवरब्रिज और हाईवे निर्माण में करीब 45 करोड़ का खर्च अनुमानित है।

अन्ना मवेशियों की समस्या जिले के सर र्दद बन चुकि है इस वर्ष किसानो को इस समस्या से निजात मिलने की पूरी संभावना है। इसके लिए शासन ने जिले के लिए दो वन विहार देने की योजना स्वीकृत की है। जहां पर एक साथ हजारों अन्ना मवेशी रह सकेंगे। दोनों वन विहार कोंच और कुठौंद क्षेत्र में खोले जाएंगे। उनके लिए स्थान भी चिह्नित हो चुके हैं। अधिकारियों का कहना है कि पूरा प्रयास होगा कि 2020 तक वन विहार में मवेशियों की चहलकदमी भी हो जाए। यहां पर मवेशियों के लिए जरूरी सारे इंतजाम भी होंगे।

जनपद से औरैया जाने के लिए जालौन से होकर जाना पड़ता था, इसके लिए हाईवे से जनपद के भीतर आना होता था। इसी साल शासन ने एट से सीधे औरैया को जोड़ने के लिए स्टेट हाईवे बनाने का फैसला किया है। जिसका काम साल के शुरू होने पर चालू भी हो जाएगा और शायद साल के खत्म होने से पहले समाप्त भी हो जाएगा। इस हाईवे के बन जाने के बाद लोगों नेशनल हाईवे से ही एट-औरैया स्टेट हाईवे में प्रवेश करते हुए कोंच के रास्ते बड़े आराम से औरैया जिले को जा सकेंगे।

अन्य खबर

चर्चित खबरें