< देश के 28वें थल सेना प्रमुख बने मनोज मुकुंद नरवाणे, चीन मामलों पर है मजबूत पकड़ Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News नई दिल्ली
भारतीय सेना के नए प्रमुख मनोज "/>

देश के 28वें थल सेना प्रमुख बने मनोज मुकुंद नरवाणे, चीन मामलों पर है मजबूत पकड़

नई दिल्ली
भारतीय सेना के नए प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे आज कमान संभालेंगे। महाराष्ट्र से ताल्लुक रखनेवाले नरवणे को मुश्किल मोर्चे पर सफलता और बेहतरीन नेतृत्व क्षमता के लिए जाना जाता है। इसके साथ ही नए आर्मी चीफ अपने सहकर्मियों और स्टाफ के बीच साफ छवि और अच्छे व्यवहार के कारण काफी लोकप्रिय हैं। चीन के साथ जुड़े सुरक्षा मामलों पर भी जनरल नरवणे की मजबूत पकड़ है। जनरल मनोज नरवणे देश के 28वें सेना प्रमुख हैं।

एमएम नरवाणे सेना में शौर्य और समर्पण के लिए, परम विशिष्ठ सेवा मेडल, अति विशिष्ठ सेवा मेडल, सेना मेडल और विशिष्ठ सेवा मेडल से सम्मानित हैं। 39 साल की गौरवमयी सेवा के बाद मनोज मुकुंद नरवाणे आज भारतीय थल सेना के शिखर पर पहुंच गए हैं। जून 1980 में सिख लाइट इन्फेंट्री रेजिमेंट की सातवीं बटालियन से नौकरी की शुरुआत करने वाले नरवाणे को आतंक विरोधी अभियानों और चीन मामलों का एक्सपर्ट माना जाता है।

कई अधिकारियों के लिए नरवणे हमेशा सतर्क रहने वाले अधिकारी के रूप में जाने जाते हैं। कहा जाता है वह जवानों को भी ऐसा ही रहने को कहते थे, भले ही एलएसी पर शांति क्यों न हो। उनके यह अहम होता है कि किसी तरह से उनके जवान को कोई नुकसान न पहुंचे। अपने लंबे करियर में नए आर्मी चीफ को कई सम्मान हासिल हुए। उन्हें सेना मेडल, विशिष्ट सेवा मेडल से नवाजा जा चुका है।

जनरल मनोज मुकुंद नरवणे का जन्म 22 अप्रैल 1960 को मराठी परिवार में हुआ था। उनके पिता इंडियन एअर फोर्स में अफसर थे। वो विंग कमांडर की पोस्ट से रिटायर हुए थे। नये आर्मी चीफ की मां ऑल इंडिया रेडियो में एनाउंसर थीं और उनकी पत्नी पेशे से टीचर हैं। उन्हें शिक्षण कार्य में 25 साल का अनुभव है। मनोज मुकुंद नरवणे दो बेटियों के पिता हैं। जनरल मनोज मुकुंद ने अपनी स्कूल शिक्षा पुणे के एक स्कूल से पूरी की।

स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने NDA की तैयारी करके नेशनल डिफेंस एकेडमी पुणे में दाखिला लिया। इसके अलावा उन्होंने इंडियन मिलिट्री एकेडमी देहरादून से भी ट्रेनिंग ली। नये आर्मी चीफ ने मद्रास यूनिवर्सिटी से डिफेंस स्टडीज में मास्टर डिग्री लेने के बाद देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर से डिफेंस एंड मैनेजमेंट स्टडीज विषय से एमफिल किया। 

अन्य खबर

चर्चित खबरें