< 28 गौवंशो की मौत के बाद जगा प्रशासन Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जालौन,

बुधवार को जिले के उरई की गोशालाओं मे"/>

28 गौवंशो की मौत के बाद जगा प्रशासन

जालौन,

बुधवार को जिले के उरई की गोशालाओं में अव्यवस्थाओं की वजह से हुई 28 गायों की मौत के बाद प्रशासन हरकत में आया और बुधवार देर रात 12 बजे जिलाधिकारी ने जिले जालौन, माधौगढ़ ब्लाक की कई गोशालाओं का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने संचालकों को गोशाला में इंतजाम पूरे करने के निर्देश दिए। इसके बाद गुरुवार को अधिकारियों ने गोशालाओं का निरीक्षण किया तो वहीं सचिवों व प्रधानों ने गोशाला में टिन शेड व अन्य इंतजाम पूरे किए। तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर बुधवार को मृत पाई गए मवेशियों के शवों का पोस्टमार्टम कराया।

बडीओ के साथ एसडीएम ने भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों से गायों की मौत के बारे में जानकारी ली। आनन फानन में अधिकारियों ने गोशाला में बांस के टट्टर लगवाकर उस पर गायों को सर्द हवाओं से बचाने के लिए तिरपाल लगावाया दिया। इसके साथ ही गोशाला में अलाव की व्यवस्था की गई।

एसडीएम ने बताया कि सर्दी से बचाव के लिए तिरपाल की व्यवस्था कर दी गई है। कदौरा प्रतिनिधि के मुताबिक ब्लाक क्षेत्र के ग्राम कुरहना आलमगीर में मवेशियों की मौत की सूचना के बाद प्रशासनिक अधिकारियों में मचे हड़कंप के बाद ग्राम प्रधान ने गोशाला में मवेशियों को सर्दी से बचाने के इंतजाम शुरू करा दिए। वहीं कई बीमार गोशंवों का पशु चिकित्सक की टीम ने पहुंचकर इलाज भी शुरू किया। मवेशियो का चेकअप करने के उपरांत घायल मवेशियो के मरहम पट्टी भी की गई।

अन्य खबर

चर्चित खबरें