< जालौन में आफत बनकर बरसे ओले, किसान हुए बर्बाद Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News शुक्रवार दोपहर हुई बारिश व ओलावृष्टि ने क्षेत्र के गांवों में जम"/>

जालौन में आफत बनकर बरसे ओले, किसान हुए बर्बाद

शुक्रवार दोपहर हुई बारिश व ओलावृष्टि ने क्षेत्र के गांवों में जमकर तबाही मचाई। ओले पड़ने से कई क्षेत्र की फसल नष्ट हो गईं। मटर की फसल में भी जमकर नुकसान हुआ। बारिश व ओलावृष्टि से ठंड बढ़ गई। लोग ठंड से बचाव का इतंजाम करते देखे गए। डकोर के मुहम्मदाबाद, कुसमिलिया, रिनियां, बड़ागांव, चिल्ली, कपासी, गिरथान जैसे गांवों में किसानों की फसलें नष्ट हो गईं वहीं शहर में जलभराव की स्थिति रही। जालौन प्रतिनिधि के मुताबिक, शुक्रवार को बारिश के साथ क्षेत्र में कई जगह ओले भी गिरे। जिसमें क्षेत्र में मटर व लाही की फसल में में पानी भर गया। मटर की फसल के सड़ने और अन्य फसलों की क्वालिटी खराब होने की आशंका भी किसानों में व्याप्त हो गई है। किसान बारिश के पानी को खेतों से निकालने में जुटे रहे।

कर्ज लेकर फसल करने वाले किसान सबसे अधिक परेशान रहे। उनको चिंता सताए जा रही थी कि वह कैसे कर्ज चुका पाएंगे और कैसे अपना परिवार का भरण पोषण कर पाएंगे। फसल तबाह होने की सूचना पर भाजपा जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह सेंगर बनाजी के साथ सदर विधायक गौरीशंकर वर्मा, सोनू चौहान, अन्नू शर्मा, उपेंद्र गुर्जर आदि ने ग्राम सोमई, हरदोई गूजर, अकोढ़ी, कपासी आदि गांव के पीड़ित किसानों से मिले और उन्हें उन्हें आश्वासन दिया कि नुकसान का आंकलन कराकर वह सरकार से सहायता संभव सहायता दिलाएंगे। चौपट फसलों को विधायक ने देख भरोसा दिलाया

अन्य खबर

चर्चित खबरें