दलहन अनुसंधान कानपुर के लिए ज्ञानार्जन यात्रा रवाना

बांदा, 03 दिसम्बर 

जिला विज्ञान क्लब बांदा के तत्वाधान में जनपद के 40 मेधावी विद्यार्थियों व 10 शिक्षकों को भारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान कानपुर में ज्ञानार्जन के लिए रवाना किया गया। मुख्य विकास अधिकारी हरीश चंद्र वर्मा ने बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया ।
विद्यार्थियों को रवाना करते समय मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि ज्ञान की कोई सीमा नहीं है, जहां मिले समेट लेना चाहिए। जिला अधिकारी हीरालाल ने बताया कि एक्सपोजर विजिट से मेधावी विद्यार्थियों को सोचकर करने की क्षमता का विकास होता है। कैरियर के लिए नवीन वैज्ञानिक क्षेत्रों के बारे में जानकारी मिलती है। यात्रा कानपुर भारतीय दलहन अनुसंधान संस्थान के प्रधान वैज्ञानिक डॉ राजेश कुमार के सहयोग एवं नेतृत्व में संचालित की गई। एक्स्पोजर विजिट समन्वयक क्लब के सनी कुमार व अभिषेक कुमार ने किया ।प्रधान वैज्ञानिक डॉ राजेश कुमार ने अपने क्षेत्र की प्रमुख दालों से परिचित कराते हुए बताया कि रवि खरीफ जायद इसके अंतर्गत ही फसलें उगाई जाती हैं। चना ,,मटर, मसूर, चकरी ,राजमा यह रवि फसल हैं। अरहर ,ग्वार, लोबिया यह खरीफ और जायद में मूंगफली आती है।
सनी कुमार ने बताया कि दलहन अनुसंधान संस्थान में हमारी जलवायु के अनुकूल फसलों दालों पर शोध कार्य किया जाता है। विजिट में मार्गदर्शक शिक्षक के रूप में प्रियंका सिंह, रेखा, प्रदीप पांड, विनोद कुमार, चंद्रभान गुप्ता, अनिरुद्ध सिंह व हेमंत कुमार आदि भी  शमिल हुए।