< अन्ना मवेशियों ने बीस बीघा फसल बर्बाद की Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जालौन, 

किसानों की लिए मुसीब"/>

अन्ना मवेशियों ने बीस बीघा फसल बर्बाद की

जालौन, 

किसानों की लिए मुसीबत का सबब बने अन्ना मवेशियों ने बीतीरात डकोर थाना क्षेत्र के मुहम्मदाबाद व कुठौंदा में आधा दर्जन किसानों के खेतों में खड़ी मटर की फसल चट कर ली। सुबह किसान खेतों में पहुंचे तो अपनी बर्बाद फसल देखकर परेशान हो गए।

किसानों ने आरोप लगाया कि अस्थायी गोशालाएं तो बना दी गई है लेकिन उनकी देखरेख की कोई जिम्मेदारी नहीं ले रहा है। जिसकी वजह से मवेशी अन्ना घूम रहे हैं। मुहम्मदाबाद के रामस्वरुप की दो बीघा, रामदास, खेमचंद्र की दस बीघा मसूर, कुठौंदा के रामहेत की चार बीघा, रियाज खान की दो बीघा, धर्मेंद्र की तीन बीघा मटर को अन्ना मवेशी बर्बाद चट कर गए। इन किसानों ने बताया कि अन्ना मवेशियों पर रोक नहीं लग पा रही है। उन्होंने अन्ना मवेशियों से अपने खेतों को बचाने के लिए तारबाड़ी भी कर रखी है। इसके बावजूद मवेशियों का झुंड आकर फसलों को बर्बाद कर रहा है।

पिछले दिनों इस क्षेत्र पचास से ज्यादा लोगों के खिलाफ डकोर पुलिस ने एफआईआर भी दर्ज की थी। इसके बाद किसानों ने तो अपने मवेशी बांध लिए लेकिन इसके बावजूद अन्ना मवेशियों पर लगाम नहीं लग सकी है। किसान पूरन वर्मा का कहना है कि गोशालाओं बनने से हम लोगों को लगा था कि कुछ राहत मिलेगी लेकिन गोशाला की देखरेख में कोई नहीं रहता है। इसके चलते मौका पाकर अन्ना मवेशियों का झुंड बाहर आकर फसलों को बर्बाद कर रहा हैं। एकाध किसान इन मवेशियों के झुंड को रोकने में सक्षम नहीं होता है।

किसान अमरचंद्र का कहना है कि इसके पहले तिलहन की फसल अन्ना मवेशी बर्बाद कर चुके हैं। किसी तरह उन्होंने मटर,मसूर आदि की बुवाई की है। अब पूरी तरह से खेतों में पौधा नहीं निकल पाया है और इन मवेशियों ने फसलों को बर्बाद करना शुरु कर दिया है। उन्होंने कहा कि इन अन्ना मवेशियों को रोकना का पुख्ता इंतजाम किया जाए। बीडीओ डकोर सुदामा शरण कहते हैं कि वैसे तो अधिकांश गांवों में गोशालाएं बनवा दी गई हैं, जो थोड़ी बहुत कमियां है, उसे भी पूरा कराया जा रहा है। वे सोमवार को गांव जाकर देखेंगे, जहां कमी होगी, उसे पूरी कराएंगे।

अन्य खबर

चर्चित खबरें