< कृषि वि.वि, बुन्देलखण्ड परिक्षेत्र के लिये वरदान- राज्य मंत्री Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा, 

बुन्देलखण्ड परिक्ष"/>

कृषि वि.वि, बुन्देलखण्ड परिक्षेत्र के लिये वरदान- राज्य मंत्री

बांदा, 

बुन्देलखण्ड परिक्षेत्र के बांदा जिले में स्थित बांदा कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यलय, बांदा बुन्देलखण्ड के कृषकों के लिये सराहनीय कार्य कर रहा है। कृषि तकनीकी प्रसार में कृषि विश्वविद्यालय का महत्वपूर्ण योगदान होता है। वर्तमान में विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा अपने शोध एवं अन्य कार्यक्रमों के माध्यम से कृषकोपयोगी जानकारी को संकलित कर प्रसारित किया जा रहा है। विश्वविद्यालय द्वारा दलहनी व तिलहनी फसलों, औद्यानिक फसलों, फलोत्पादन एवं वानिकी महत्व के पौधों व युवाओं के कृषि में रोजगार की सम्भावनाओं को विकसित कर चलायें जा रहे कार्यक्रमों से निश्चित सफलता प्राप्त होगी। यह बातें उ.प्र. शासन के राज्य मंत्री, लोक निर्माण विभाग, चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय ने कही।

मंत्री ने कहा कि विश्वविद्यालय के कुलपति डा. यू.एस. गौतम के नेतृत्व एवं उनके अनुभवों से बुन्देलखण्ड परिक्षेत्र के कृषकों के लिये किये जा रहे कार्य इस क्षेत्र के लिये वरदान साबित होगा। डा. यू.एस. गौतम को ढेर सारी शुभकामनायें एंव बधाईयां देते हुये कहा कि विश्वविद्यालय प्रगति के मार्ग पर तेजी से आगे बढ़ रहा है।

मंत्री ने विश्वविद्यालय के वैज्ञानिको द्वारा किये गये कार्यो की सराहना करते हुये कहा कि विश्वविद्यालय के युवा वैज्ञानिक अपनी मेहनत एवं लगन से इस क्षेत्र का भाग्य बदलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगें। अन्य विश्वविद्यालय की तुलना मे संसाधनों का अभाव है फिर भी कार्य सही दिशा में और कम सम्पादित किये जा रहे है। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति डा. यू.एस. गौतम ने मंत्री के आगमन पर कहा कि इस विश्वविद्यालय में संसाधनों की कमी के बावजूद भी वैज्ञानिकों के द्वारा शोध कार्य भलीभांति किये जा रहे है। डा. गौतम ने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा बुन्देलखण्ड के किसानों को तकनीकी प्रसार एंव माडल विकसित करने हेतु विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम जैसे जैविक कारीडोर तथा बुन्देली कृषि चौपाल आदि कार्यक्रम चलाये जा रहे है।

अन्य खबर

चर्चित खबरें