जो अपने मां-बाप को कष्ट देता है उसके बच्चे उससे ज्यादा कष्ट देंगे: ए0डी0एम0

जालौन, 

यह निश्चित है कि जो अपने मां-बाप को कष्ट देगा, उसके बच्चे उससे ज्यादा कष्ट देंगे। यह विचार ए0डी0एम0 प्रमिल कुमार सिंह ने व्यक्त किये। वह आज युवा आदर्श समाज कल्याण समिति के तत्वावधान में ग्राम बरसार में स्वामी वृन्दावन की स्मृति में आयोजित दवा वितरण, कन्या भोज तथा गरीब स्त्री -पुरूषों को अंग वस्त्र वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आज उपस्थित सैंकड़ों लोगों को सम्बोधित कर रहे थे।

ए0डी0एम0 श्री सिंह ने अपना संस्करण सुनाते हुये कहा कि बचपन में जब उनसे कोई गलती हो जाती थी तो पिता की डांट और मार से बचने के लिये वे अपने बाबा की गोद में बैठ जाते थे। उन्होंने कहा कि पहले संयुक्त परिवार व्यवस्था जहां बच्चों में संस्कार डालती थी, वहीं उनका बड़े-बूढ़े हर तरह से संरक्षण करते थे, लेकिन आज परिवार इकिलिया हो रहे हैं जिसमें स्वयं पत्नी और अपने बच्चों के बाद मां बाप का भी स्थान नहीं है। यह भारतीय संस्कृति नहीं है। इसलिये हमें फिर से संयुक्त परिवार वाली व्यवस्था संस्कारों को मजबूत करना होगा। उन्होने आगामी प्रधानों के चुनावों पर ग्रामीण मतदाताओं को आगाह करते हुये कहा कि यदि आप लोग दारू मुर्गा और नोट के चक्कर में रहेंगे तो जो भी प्रधान बनेगा, बाद में वह भी आपसे इसी की मांग करेगा। इसलिये अच्छे और सच्चे प्रत्याशी को ही चुने।

सामाजिक न्याय एवं किसान मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश निरंजन ‘भैयाजी’ ने कहा कि इस तरह से गरीबों को वस्त्र देने, कन्या  भोज तथा निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण दवा वितरण का कार्यक्रम गांव-गांव होने चाहिये। जरूरत इस बात की है कि लोगों को अपने पूर्वजों की स्मृति मेे ऐस कार्यक्रमों का आयोजन को। भैया जी ने कहा कि आप अपने पूर्वजों की पुण्य स्मृति में चाहे तो सिर्फ दो भूखों को खाना खिलायें। लेकिन इस तरह से सामजिक ऋण चुकायें। उन्होंने गांव गांव में विकराल हो रही अन्ना पशु समस्या की ओर जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुये कहा कि जिला प्रशासन और किसान को मिलकर इसका निराकरण करना ही चाहिये। क्योंकि किसान बहुत परेशान है।

इस कार्यक्रम में संयोजक पत्रकार श्रीकान्त शर्मा एवं उनके बड़े भाई रमाकान्त शर्मा ने कहा कि पूज्य बाबा स्वामी ब्रहमानंद जी की स्मृति में वे वर्ष 1998 से इस तरह के आयोजन लगातार कर रहे हैं। उन्न्होंने बताया कि आज गांव में 700 से अधिक ग्रामीणों को क्षेत्रीय आयुर्वेदिक अधिकारी डा0 मुरलीधर गुप्ता और डा0 आर0के0 गुप्ता की 21 सदस्यीय टीम ने मरीजों का निःशुल्क परीक्षण किया तथा उन्हें फ्री दवाओं का वितरण किया। इस कार्यक्रम में उद्योग पति डा0 संतराम निरंजन की ओर से भी दवा वितरण किया गया।

श्रीकांत शर्मा ने कहा कि इस कार्यक्रम में 70 महिलाओं को साड़िया एवं 100 ग्रामीणों को कुर्ता धोती तथा 1000 कन्याओं व लंगूरों (छोटे बच्चों) को भोजन कराया गया तथा उन्हें अन्न दान भी दिया गया। 

इस अवसर पर एन0यू0जे0आई0 के राष्ट्रीय पार्षद अनिल शर्मा ने कहा कि देश में वृद्धाश्रम की जो बाढ़ सी आ रही है वह बता रहा है कि हम अपने परिवारों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं कर रहे हैं। हमें अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देने पड़ेंगे। श्री शर्मा जी ने कहा कि मां बाप के अलावा हर व्यक्ति पर समाज का भी ऋण होता है। उसे इस बात का ध्यान रखना चाहिये, वर्ना लक्ष्मी के तीन ही रूप होते हैं या तो उपभोग कर लो, या दान कर लो, वरना नाश ही होगी। बैंक में जमा आपकी रकम सिर्फ एक फिगर ही बनी रह जायेगी। वरिष्ठ पत्रकार के0पी0 सिंह ने कहा कि व्यक्ति जबसे जन्म लेता है तब से मृत्यु तक उसके ऊपर समाज का कोई न कोई ऋण रहता है। इसलिये हर व्यक्ति को सामाजिक ऋण चुकाना ही चाहिये। ऐसे कार्यक्रम गांव-गांव में होने चाहिये। वरिष्ठ पत्रकार संजय श्रीवास्तव ने कहा कि उन्होंने अपने पूर्वजों के नाम पर रामेश्वर वाटिका का निर्माण किया है। गरीबों, असहायों की मदद हर किसीको करना चाहिये, क्योंकि सबके ऊपर सामाजिक ऋण है।

एस0डी0एम0 सदर सत्येन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि ये बहुत ही प्रेरणादायी कार्यक्रम है, समाज के लोगों को इस कार्यक्रम से प्रेरणा लेकर गांव-गांव में स्वास्थ्य शिविर व गरीबों की सहायता के कार्यक्रम करना चाहिये। नगर पंचायत रामपुरा के अध्यक्ष शैलेन्द्र सिंह ने कहा कि जिसने इस पृथ्वी में जन्म लिया है उसकी मृत्यु एक दिन निश्चित है। प्रत्येक व्यक्ति समाज का कर्जदार है। इसलिये पूर्वजों के साथ-साथ हर व्यक्ति को सामाजिक ऋण भी चुकाना चाहिये। 

इस अवसर पर क्षेत्रीय मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 मुरलीधर आर्य ने कहा कि जिन गांवो में निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाने के लिये उनसे कहा जायेगा, वो और उनकी टीम इसके लिये हमेशा तैयार रहेंगे। इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक डा0 अवधेश सिंह, पं0 विश्वनाथ शर्मा, कोटरा नगर पंचायत के अध्यक्ष डा0 आशाराम अग्रवाल, पूर्व अध्यक्ष मूलचन्द्र बुधौलिया, भाजपा के वरिष्ठ नेता अरविन्द सिंह चैहान, ग्राम प्रधान बरसार अरविन्द सिंह राजपूत, ग्राम प्रधान चौतरहाई रणजीत सिंह, ग्राम प्रधान जैसारीकलां गजराज सिंह राजपूत, सचिन शर्मा ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये। अतिथियों ने गरीब स्त्री पुरूषों को वस्त्र वितरण किये तथा ग्रामीणों के निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण एवं मुफ्त दवा वितरण के कार्यक्रम का भी निरीक्षण किया। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार अनिल शर्मा तथा अध्यक्षता सुरेश निरंजन भैया जी ने की।