बाल बाल बचे एक ही परिवार के पाँच सदस्‍य

टीकमगढ़, 

कहावत है कि "जाको राखे साइयां मार सके ना कोई" एक बार फि‍र सही साबित हुई जब कार दुर्घटना में एक परिवार के पांच सदस्‍य चमत्‍कारिक ढंग से सकुशल बच गए। इस हादसे को जिसने भी देखा दांतों तले अपनी अंगुली दबा ली।

जानकारी के अनुसार पांच लोगों को लेकर जा रही एक कार निवाड़ी तहसील के ओरछा में नदी में जा गिरी। बताया जाता है कि कार को किसी वाहन ने टक्‍कर मारी इसके बाद वह अनियंत्रित होकर नदी में जा गिरी। कार में सवार लोगों में दो बच्‍चे भी थे। हैरतअंगेज बात यह है कि डूबती हुई कार में से अपने बच्चे को बचाने के लिए पिता ने कार में से ही बच्चे को पुल पर फेंक दिया।

बच्चा पुल पर खड़े लोगों के हाथ से भी छूट गया और वापस नदी में जा गिरा। वह तो गनीमत रही कि बच्‍चा पुल की दीवार से नहीं टकराई। बच्‍चा नदी में गिरा तो पुल पर से ही कुछ लोग उसे बचाने के लिए नदी में कूद गए। तुरंत कार में से पिता और पुल से लोग कूदे और वापस नदी में डूबते बच्चे को बचाया गया। जिसने भी यह नजारा देखा उसके रोंगटे खड़े हो गए।