< बबली कोल का अंतिम सदस्य भी गिरफ्तार Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News @आशीष उपाध्याय,

बबली कोल का अंतिम सदस्य भी गिरफ्तार

@आशीष उपाध्याय, चित्रकूट 

दशहरे में चित्रकूट पुलिस को पाठा के रावण के आखिरी खौफ को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर रावण का हमेशा के लिए वध कर दिया है। चित्रकूट पुलिस को यह बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने हाल ही में मारे गए साढ़े छह लाख के इनामिया डकैत दस्यु बबुली कोल गैंग के इस आखिरी सदस्य को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया है।

पकड़े गए बदमाश छोटू भैया पर 50 हजार रुपये का इनाम था। छोटू को चित्रकूट बहिलपुरवा थानांतर्गत मारोबांध के जंगल में मुठभेड़ के दौरान डीआईडी एंटी डकैती व एसपी एंटी पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया है। डकैत के पास से पुलिस ने 315 बोर रायफल और आधा दर्जन कारतूस बरामद किए हैं। एसपी मनोज कुमार झा ने बताया कि बबली कोल गैंग के बचे इस आखिरी डकैत को शुरू से वीरप्पन के नाम से बुलाते थे।

एसपी मनोज झा ने कहा कि इस डकैत के मारे जाने के बाद अब चित्रकूट पूरी तरह दस्यु विहीन हो चुका हैं। डकैतों की वजह से चित्रकूट विकास से कोसो दूर था लेकिन अब इस समस्या को जड़ से उखाड़ फेका गया है, दबे कुचले बचे डकैत अब क्रिमिनल ही हैं जिन्हे कभी भी उठाकर बंद करके नामो निशान ख़त्म क्र दिया जायेगा। डकैत छोटू भैया के पास से ३१५ बोर की रायफल व आधा दर्जन कारतूस बरामद हुए हैं। डकैत छोटू ने भी दस्यु बबली कोल के आपसी गैंगवार की बात से पर्दा उठाते हुए कहा कि बबली कोल को हम तीन अन्य साथियों ने मिलकर मारा है न कि एमपी पुलिस ने।

अन्य खबर

चर्चित खबरें