< श्री राम के अग्नि वाण से रावण ढ़ेर, जला पुतला Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा, 

मंगलवार को विजयदशमी "/>

श्री राम के अग्नि वाण से रावण ढ़ेर, जला पुतला

बांदा, 

मंगलवार को विजयदशमी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। प्रागी तालाब रामलीला में रावण वध के साथ ही दशहरे की शुरूआत हुई। भगवान मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम ने अंहकारी रावण का जब वध किया तो दर्शकों के गगनभेदी जयकारों से पूरा इलाका गूंज उठा। शाम से शुरू हुआ दशहरा मिलन देर रात तक चलने की सम्भावना हैं । लोगों ने एक दूसरों के घरों पर जाकर दशहरा की बधाई दी।

प्रागी तालाब रामलीला मैदान में शाम चार बजे से रामलीला की शुरूआत हो गई। भगवान श्रीराम और उनकी सेना दशानन की सेना पर हमला कर दिया। भगवान राम ने विभीषण के बताए संदेश को अमल करते समय रावण की नाभि पर तीर मारा और रावण का अंत हो गया। रावण वध के साथ ही हजारों की संख्या में मौजूद लोगों ने भगवान श्रीराम के जयघोष लगाए। इस दौरान वहां पर मौजूद रावण के पुतले को कुछ लोगों ने आग के हवाला कर दिया। देखते ही देखते धूं धूं कर जलने लगा। दशहरा की शुरूआत होते ही प्रागीतालाब मोहल्ला, निम्नीपार, छोटीबाजार, खुटला, रहुनियां, ठठराही, अवस्थी चौराहा, फूटाकुआं मोहल्लों में मंगलवार को दशहरा मनाया गया।

बुधवार को अलीगंज में रामलीला मंचन होगा। इसके बाद रावण का पुतला फूंका जाएगा। यहां पर अतर्रा चुंगी चौकी, अलीगंज, बाबूलाल चौराहा, गायत्री नगर, परशुराम तालाब आदि मोहल्लों में दशहरा मनाया जाएगा। परंपरा के मुताबिक प्रागी तालाब में जलते हुए रावण के पुतले पर लोगों ने पत्थर बरसाए। बताते हैं कि इस परंपरा में लोग रावण के कर्मों का विरोध करते हैं। रावण अंहकारी होने के साथ साधु सज्जनों पर जुल्म करता था।

 

अन्य खबर

चर्चित खबरें