राेज सुबह सड़क पर लगाते हैं झाड़ू, प्रेरित होकर लोग भी लगाने लगे

दतिया, 

बुन्देला कॉलोनी में रहने वाले पूर्व सर कार्यवाह स्व. गोविंद राव काले के बेटे योगेश काले प्रतिदिन सुबह उठकर रास्ते में सफाई करते हैं। 200 मीटर लंबी और 30 फीट चौड़ी सड़क पर वे नगर पालिका के सफाई कर्मियों की तरह न केवल झाड़ू लगाकर सफाई करते हैं बल्कि कचरे को चिन्हित जगह डालते हैं ताकि कचरा फिर से न फैले।

इस गली में हमेशा साफ सफाई रहती है। योगेश दिखावे और फोटो खिंचवाने के लिए झाड़ू नहीं लगाते बल्कि ये उनकी दैनिक दिनचर्या का हिस्सा बन चुका है। जब तक वे गली की सफाई न कर दें तब तक उन्हें खुद चैन नहीं पड़ता है।

आमतौर पर देखने में आता है कि विशेष मौकों पर ही जनप्रतिनिधि, अधिकारी झाड़ू हाथ में थामते हैं और फोटो खिचवाकर चले जाते हैं। लेकिन बुंदेला काॅलोनी निवासी योगेश का यह अभियान गैर राजनीति अभियान है जो कि देशभक्ति से प्रेरित है। योगेश पिछले कई सालों से साफ सफाई करते आ रहे हैं।

योगेश बताते हैं कि कोई एक इंसान सब कुछ नहीं कर सकता है। जिस तरह हम अपने शरीर को साफ व स्वच्छ रखते हैं ठीक उसी तरह गली मोहल्ले, शहर की सफाई की भी जिम्मेदारी हमारी ही है। फिर वह हम किसी भी रूप में लें। वे कहते हैं कि हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है उसका देश स्वच्छ रहे। हर व्यक्ति की भागीदारी जरूरी है तब हम स्वच्छ भारत का सपना साकार कर सकते हैं। योगेश कहते हैं कि हम साफ सफाई के लिए केवल निकाय के कर्मचारियों के भरोसे नहीं रह सकते। हमें इस मानसिकता को बदलकर खुद भी आगे होना होगा। ये शहर हमारा है यह प्रदेश और देश हमारा है।