खेरमाई मंदिर में जल चढ़ाने सुबह से लग रहीं कतारें

दमोह, 

शारदेय नवरात्रि के पावन अवसर पर सिंग्रामपुर बड़ी खेर माता मंदिर में सुबह से माता रानी को जल चढ़ाने के लिए भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। माता के दर्शन को लंबी कतारें लग जाती हैं मान्यता है कि बड़ी खेरमाई माता के दरबार में सच्चे मन से जाने वाले सभी श्रद्धालुओं की मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। और इसी आस्था विश्वास के चलते ग्राम के लोग नवरात्र भर माता की आराधना में लग जाते हैं।

बताया जाता कि बड़ी खेर माई मंदिर वीरांगना रानीदुर्गावती के शासन काल के पहले मुगलों के द्वारा हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियां खण्डित करने का प्रमाण यहां की खण्डित प्रतिमाओं में मिलता है। जिससे इन प्रतिमाओं का प्राचीन समय की होने का अनुमान है। जिसके चलते यह देवी स्थल हजारों वर्षों से श्रद्धालुओं का आस्था का केंद्र बना हुआ है। वैसे तो वर्ष भर माता के दर्शनों के लिए नगरवासियों का आना-जाना बना रहता है।

नवरात्रि में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगी रहती है। जिसमे ग्राम सहित आसपास के श्रद्धालु दर्शन के लिए यहां आते हैं। खेरमाई माता के समिति में खेमचंद पटेल सुशील पटेल धर्मेंद्र राजपूत ने बताया कि अपनी आस्था और विश्वास के साथ यहां लोग आते हैं उनकी इच्छा पूरी होती है और हमारी समिति के सदस्य तत्पर खड़े रहते है कोई श्रद्धालु निराश होकर न जाए। समिति के सदस्यों ने बताया की शुक्रवार को खेरमाई माता के दरबार में 151 फीट की चुनरी चढ़ाई जाएगी। चुनरी यात्रा पोड़ी तिराहे मुख्य बाजार होते हुए निकाली जाएगी।