लगातार हो रही बारिश से बांदा हुआ जलमग्न

@अनिल सिंह आवारा, बांदा

बांदा, जनपद में जहां यमुना और केन में बाढ़ आ जाने से दर्जनों गांव बाढ़ की चपेट में आ गए है। वहीं दूसरी ओर 2 दिन से हो रही मूसलाधार बारिश से समूचा शहर पानी पानी हो गया है। जगह-जगह जलभराव हो जाने से लोगों का निकलना मुश्किल हो गया है।

पिछले 2 दिन से लगातार रुक रुक बारिश हो रही है। बुधवार को रात में मूसलाधार बारिश हुई, जो दोपहर 12 बजे तक चलती रही। जिससे ज्यादातर स्कूलों में रेनी डे हो गया। जो बच्चे घर से निकले वह पानी में भीग जाए। जो स्कूल खुले थे उनमें पानी भर गया। राष्ट्रीय इंटर काॅलेज का पूरा मैदान पानी-पानी हो गया। इसी मैदान के पास स्थित डीआईओएस कार्यालय और बीएसए कार्यालय पानी में घिर गए। दोनों विभाग कई घंटें टापू बने रहे।

इसी तरह शहर के स्वराज कालोनी  गली नं. 3-4 में पानी भर जाने से कई घंटे तक लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल सके। न्यू मार्केट और शंकर स्टोर वाली गली पानी-पानी हो गया। इसी तरह जल निकासी न होने के कारण शहर के कई हिस्सों में पानी भर गया। इंदिरा नगर, शांति नगर, सर्वोदय नगर में जलभराव के कारण कई मकान भी टापू बने रहे। बारिश के कारण ही सड़को में जलभराव होने से जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई।

नाले नालियों का कचरा भी सड़कों में आ जाने से कई जगह सड़कों में गंदगी नजर आई। जिससे नगर पालिका की सफाई व्यवस्था की पोल खुल गई। उधर कई पुरानी इमारतों, स्कूलों की बिल्डिंग भी बारिश के कारण टपकती रही। केंद्रीय जल आयोग ने 22.6 सेंटीमीटर बुधवार को वर्षा रिकाॅर्ड की है। तुलसी विहार काॅलोनी में भी बारिश का पानी सड़क पर भर गया। इसी काॅलोनी के लोगों ने मंगलवार को डीएम को ज्ञापन देकर जलभराव से निजात दिलाने की मांग की थी।