< यमुना खतरे के निशान से पार, केन भी मचल रही है Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा,

जनपद बांदा में यमुना औ"/>

यमुना खतरे के निशान से पार, केन भी मचल रही है

बांदा,

जनपद बांदा में यमुना और केन का जलस्तर मंगलवार को भी बढ़ता रहा। जिससे दो दर्जन गांवो में बाढ़ का पानी घुस गया है। केन्द्रीय जल आयोग ने आज रात 9 बजे तक जल स्तर 1.93 मीटर पर पहुंचने का फोरकास्ट जारी किया है और उसके बाद भी लगातार जल स्तर बढ़ने की संभावना व्यक्त की हैं ।

केन्द्रीय जल आयोग ने सोमवार को नदी का जलस्तर 1.80 मीटर पहुंचने की संभावना व्यक्त की थी। जलस्तर मंगलवार को सवेरे 11 बजे 1.80 मीटर पर था और प्रति घन्टे 3 सेमी बढ़ रहा है। रात में नदी का जल स्तर खतरे के निशान से एक मीट उपर हो जाएगा। यमुना का खतरे का निशान 100 मीटर हैं। नदी का जलस्तर अभी 80 सेमी बह रहा हैं। नदी का जल स्तर खतरे का निशान पार कर जाने से पैलानी तहसील के अदरी, लसड़ा, गौरा, खपटिहा, गड़ोला, गौरी खुर्द, चंदवारा, गहवरा, दहोेतरा, डिघवट, बसहरी, इत्यादि गांवों में पानी पहुंच गया हैं।

जिससे ग्रामीणों की परेशानी बढ़ गई हैं। ज्यादातर संपर्क मार्गों ने पानी पहुंच जाने से उनमें नावे चल रही हैं और ग्रामीण अपने बचाव के लिए सुरक्षित स्थानों में जाने की तैयारी कर रहे हैं। बाढ़ का पानी खेतों में घुस जाने से किसानों की फसल भी नष्ट हो रही हैं। इसके बाद भी प्रशासनिक व्यवस्था कुछ नहीं की गई हैं। बाढ़ चैकियां भी निष्क्रिय हैं और राहत केंद्र कहां -कहां बनाये हैं इसकी जानकारी प्रशासन द्वारा नहीं दी जा रही हैे। जिससे इस इलाके में बाढ़ के कारण हालात बिगड़ गए हैं। उधर केन नदी भी मचल रही हैं लेकिन खतरे के निशान से नीचे बह रही हैे।

अन्य खबर

चर्चित खबरें