केन व यमुना में निरन्तर बढ़ रहा है बाढ़ का पानी

@अनवर रज़ा रानू, बांदा

बांदा, 16 सितम्बर। जनपद के बांदा जिले में केन और यमुना नदियों के जलस्तर में बढ़ोत्तरी जारी है। यमुना किनारे गांवों में इसका असर साफ दिख रहा है, खतरे के निशान 100 मीटर से यमुना 69 से.मी. ऊपर बह रही है। केंद्रीय जल आयोग ने आज रात 9 बजे तक इसके 100.80 मीटर तक पहुंच जाने का फोरकास्ट जारी किया है।

सोमवार की शाम केन नदी का जलस्तर भी बढ़ने लगा है। सदर और पैलानी तहसील क्षेत्र के यमुना और केन नदियों के आसपास बसे करीब 30 से ज्यादा गांव बाढ़ के पानी से घिरे हुए हैं। उधर कई संपर्क मार्ग डूब गए हैं और वहां नावें चल रही हैं। सबसे ज्यादा चिंताजनक हालात चिल्ला कस्बे के हैं यहां दोनों बाढ़ ग्रस्त केन और यमुना नदियां एक दूसरे में मिलती हैं जिस कारण यहां चारों तरफ दूर दूर तक पानी ही पानी नजर आ रहा है।

चिल्ला कस्बे में 500 बच्चों की संख्या वाला डे बोर्डिंग स्कूल चारों तरफ से पानी मे घिर गया है और जल्द ही डूबने वाला है। स्कूल के गेट, रास्ते और पूरा बेस हिस्सा पानी मे डूबा हुआ है। इसके अलावा किसानों की सैकड़ों बीघा फसल पानी की भेंट चढ़ गई है। उधर प्रशासन का कहना है कि फ्लड पीएसी तैयार है अगर जरूरत पड़ती है तो हम हालात से निपटने को तैयार हैं। लोगों का कहना है कि उन्हें प्रशासन से अब तक कोई चेतावनी नहीं मिली है।