< बिजली विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जालौन,

जिले की बेपटरी बिजली व्यवस्था ने "/>

बिजली विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की

जालौन,

जिले की बेपटरी बिजली व्यवस्था ने लोगों का हाल बेहाल कर दिया है। हालत यह है कि दो-दो दिनों तक आपूर्ति ठप रखी जा रही है। तहसील क्षेत्र में कस्बा के अलावा दर्जनों गांव पिछले पचास घंटे से अंधेरे में डूबे रहे। इससे नाराज लोग सुबह सड़क पर उतर आए। गोहन-जालौन मार्ग पर आवागमन ठप कर जाम लगा दिया। बिजली विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

करीब तीन घंटे तक लगे जाम से लोग हलकान हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस की लोगों ने एक नहीं सुनी। बाद में तहसीलदार ने मोबाइल पर लोगों को जल्द व्यवस्था सुधार का आश्वासन दिया, जिसके बाद लोग सड़क से हटे। बिना सूचना के आपूर्ति चालू करने और उसकी चपेट में आकर संविदाकर्मी के गंभीर हालत में पहुंचने पर भी लोगों की जमकर नाराजगी रही।

कंचनपुर 33 केवीए सब स्टेशन से पिछले 50 घंटे से आपूर्ति ठप है। बिजली कटौती से परेशान लोगों की नाराजगी को लाइनमैन को करंट लगने से और भड़क गई। ग्रामीणों ने ग्राम राजपुरा में सरावन श्रमदान पर जाम लगा दिया। गोहन जालौन रोड पर जाम के दौरान जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया गया। प्रशासन से मांग की कि सरावन टाउन के जर्जर तार एवं जर्जर हाईटेंशन लाइन के तार बदले जाएं। लापरवाह बिजली कर्मचारियों को हटाया जाए। साथ ही विद्युत कटौती को कम किया जाए। जर्जर तारों के कारण रोजाना कहीं न कहीं हादसा हो जाता है। संविदा कर्मी की हालत गंभीर

शाम सरावन में शट डाउन लेकर संविदाकर्मी जितेंद्र कुमार जर्जर टूटे तार को जोड़ रहा था। तभी लाइन चालू कर दी गई, जिससे उसको करंट लग गया और वह गंभीर रूप से झुलस गया। हालत गंभीर होने पर उसे मेडिकल कॉलेज झांसी रेफर किया गया है। जाम लगाए लोगों को समझाने के लिए एसओ विनोद कुमार पांडेय ने लोगों को समझाया लेकिन वह नहीं माने। मोबाइल पर तहसीलदार ने की बात

 

अन्य खबर

चर्चित खबरें