< दरोगा की दरिया दिली उसने कफन के लिए दी मदद       Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News @अनिल सिंह आवारा, बांदा

दरोगा की दरिया दिली उसने कफन के लिए दी मदद      

@अनिल सिंह आवारा, बांदा

गुड मॉर्निंग पुलिस का मानवीय चहरा आया सामने 

पुलिस अधीक्षक द्वारा शुरू की गई गुड मॉर्निंग पुलिस की पहल आजकल हर पुलिसकर्मी या पुलिस अधिकारी में मानवता असर कर रही है। बुधवार को भी एक दरोगा ने गरीब व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर उसके अंतिम संस्कार के लिए अपनी जेब से 5000 रूपये दिए और अन्य लोगों को भी ऐसा करने के लिये प्रेरित किया।

यह मामला है काशीराम कॉलोनी निम्मी पार का हैं। जब बीमारी से ग्रस्त चांद नामक व्यक्ति की बुधवार को मृत्यु हो गई। वह इतना गरीब था कि उसके पास एक वक्त के खाने के लिए कुछ नहीं था। वह अपने पीछे 5 बच्चों को छोड़ गया। परिवार के पास आज कफन के लिए भी पैसे नहीं थे, तभी वहां किसी मामले की जांच करने पहुंचे मर्दन नाका चौकी इंचार्ज नरेश निगम को जब पता चला कि मृत व्यक्ति अत्यंत गरीब था तो फौरन अंतिम संस्कार के लिए उन्होंने अपनी जेब से 5000 रूपये दिए। साथ ही वहां के निवासियों से भी उनकी मदद के लिए प्रेरित किया। तब मदद के लिए कई हाथ बढ़े और मदद की।

बताते चलें कि पुलिस अधीक्षक द्वारा शुरू की गई मुहिम गुड मॉर्निंग को प्रदेश स्तर पर भी शुरू किया जा रहा है। इसके तहत पुलिस की अलग-अलग टीमें बनाई गई हैं। जो सवेरे स्कूल जाने वाली छात्राओं, मॉर्निंगवॉक पर जाने वाले वृद्धजनों, महिलाओं से गुड मॉर्निंग करने के बाद उनकी समस्याएं पुछते हैं और समस्या मालूम होने पर तत्काल निस्तारण भी करते हैं। कभी-कभी तो बच्चों का टिफिन तक स्कूल पहुंचाने का काम किया है। इसके अलावा मुसीबत में ऐसे लोगों की मदद करके पुलिस ने मानवता के प्रति बेहतर कार्य करने की कोशिश की है। जिससे पुलिस की हर जगह प्रशंसा हो रही है।
 

अन्य खबर

चर्चित खबरें