< 29 अगस्त को मनाया जाएगा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News 1 से 19 वर्ष तक के बच्चों को खिलाई जाएगी पेट के कीड़े "/>

29 अगस्त को मनाया जाएगा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस

1 से 19 वर्ष तक के बच्चों को खिलाई जाएगी पेट के कीड़े मारने की दवा : जनपद को कृमि मुक्त बनाने और बच्चों एवं किशोर-किशोरियों में खून की कमी जैसी समस्या से निजात दिलाने के लिए वर्ष में दो बार कृमि मुक्ति दिवस मनाया जाता हैं। इस कार्यक्रम के तहत पेट के कीड़े मारने की दवा सभी सरकारी एवं सहायता प्राप्त निजी विद्यालयों और आंगनबाड़ी केन्द्रों पर नि:शुल्क खिलाई जाती है।

29 अगस्त को कृमि मुक्ति दिवस सुचारु रूप से चले इस के लिए जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में उन्होने कहा सभी स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र में बच्चों की सूची बनाई जाये और जो बच्चे छूट जाये उनकी अलग से सूची बना कर आंगनबाड़ी केंद्र को दी जाये जिससे सभी बच्चों को कवर किया जा सके।

4.64 लाख बच्चों को दवा खिलाने का लक्ष्य : सीएमओ डा.प्रताप सिंह ने राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस को लेकर दिशा निर्देश जारी किए और कहा आशाओं का मानदेय जो 100 रुपया निर्धारित है उन्हे समय पर दिया जाये। आरबीएसके डीआईईसी मैनेजर डा.सुखदेव ने बताया इस दिवस के अंतर्गत ललितपुर जिले में 4.64 लाख बच्चों का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

इस वर्ष आईटीआई, पॉलिटेक्निक के बच्चों को भी शामिल किया गया है। उन्होने बताया खून की कमी (एनीमिया) का मुख्य कारण पेट के कीड़े भी हैं जिसकी वजह से बच्चा कुपोषण का शिकार हो जाता हैं। कृमि मुक्ति दिवस मनाए जाने का उद्देश्य भी यही है कि 1 से 19 वर्ष तक के सभी बच्चों को कृमि के कारण कुपोषित होने से बचाया जा सके। कृमि बच्चों के विकास को रोक देता है जिसके कारण बच्चों की मानसिक एवं शारीरिक वृद्धि रुक जाती है। बच्चों में यह कीड़े खुले में शौच करने से ज्यादा विकसित होते है। 
 

अन्य खबर

चर्चित खबरें