< एसडीएम से बोले ग्रामीण- छह गांव में नहीं आ रही बिजली Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News समिति ने खरीदा चना, पौने दो लाख का आज तक नहीं हुआ भु"/>

एसडीएम से बोले ग्रामीण- छह गांव में नहीं आ रही बिजली

समिति ने खरीदा चना, पौने दो लाख का आज तक नहीं हुआ भुगतान  : ग्राम नैकोरा निवासी अमरशब्दानंद पुत्र आत्माराम पुरी ने आवेदन देकर बताया कि उन्होंने ग्राम नैकोरा की सोसायटी केंद्र मुरैरा पर 40 क्विंटल गेहूं समर्थन मूल्य पर बेचा था। जिसका एक लाख 76 हजार रुपए बैंक खाते में भुगतान किया जाना था।

लेकिन आज तक एक रुपया तक नहीं आया है। कई बार बैंक और सोसायटी के चक्कर लगाए लेकिन हल कुछ नहीं निकला। केवल इतना कह दिया जाता है कि रुपया जल्द आ जाएगा लेकिन कब तक आएगा यह कोई नहीं बताता। इस संबंध में कई बार जनसुनवाई में भी आवेदन दिया, सीएम हेल्पलाइन पर भी शिकायत की लेकिन हुआ कुछ नहीं। 

जो गांव में नहीं रहते, उन्हें भी बना दिया वोटर, 43 फर्जी नाम सम्मिलित : ग्राम करारीखुर्द निवासी मुकेश कुमार यादव ने आवेदन देकर बताया कि ग्राम पंचायत करारीखुर्द की मतदाता सूची में 43 फर्जी नाम सम्मिलित हैं। ये मतदाता गांव में ही निवास नहीं करते हैं।

दो-दो जगह मतदाता सूची में नाम जुड़वा लिया है। कुछ मतदाता तो गांव के रिश्तेदार हैं और कुछ गांव के हैं लेकिन 20 साल पहले गांव छोड़कर चले गए और जहां रह रहे हैं वहां भी मतदाता कार्ड बनवा लिए हैं। इन 43 नामों को हटाने के लिए 17 सितंबर 2018 काे एसडीएम को एक आवेदन दिया गया था लेकिन नाम नहीं हटाए गए। 10 महीने बाद भी 43 नाम फर्जी मतदाता सूची में शामिल हैं। 

गांव के हैंडपंप पर पंचायत सचिव ने किया कब्जा : ग्राम धनौटी निवासी जीतेंद्र सिंह पुत्र गंधर्व सिंह गुर्जर ने जनसुनवाई में आवेदन देकर बताया कि गांव के सरकारी हैंडपंप पर पंचायत सचिव बलवंत सिंह गुर्जर ने करीब एक सप्ताह पूर्व निजी मोटरपंप डाल लिया है।

गांव के लोगों द्वारा मना करने पर बलवंत सिंह गाली गलौज करता है और झगड़ा करने पर आमादा हो जाता है। पूर्व में भी एक बार जांच टीम ने हैंडपंप को अतिक्रमण मुक्त कराया था लेकिन पुन: कब्जा कर लिया गया है। 

अन्य खबर

चर्चित खबरें