< मत्तगजेन्द्रनाथ भगवान की निकाली पालकी यात्रा, हुई महाआरती Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News सावन के अंतिम सोमवार को धूमधाम से राजाधिराज मत्तगजेन्द्रनाथ जी"/>

मत्तगजेन्द्रनाथ भगवान की निकाली पालकी यात्रा, हुई महाआरती

सावन के अंतिम सोमवार को धूमधाम से राजाधिराज मत्तगजेन्द्रनाथ जी की पालकी यात्रा निकाली गई, सैकड़ों की तादाद में भक्तों ने पालकी यात्रा में शिरकत की, गाजे-बाजे के साथ भक्तजन नाचते झूमते रहे बाद में महाआरती हुई। मंदिर की ओर से भोलेनाथ में 56 भोग लगाया गया, बुन्देली सेना ने 51 किलो पंचमेवा का प्रसाद का वितरण किया तो अन्य साधकों ने भी खीर, हलुआ समेंत अन्य प्रसाद बांटे, हजारों भक्तों ने दर्शनलाभ लिया।

विगत वर्षों की भांति पालकी यात्रा का सर्वप्रथम मंदाकिनी किनारे पुजारी विपिन बिहारी ने पूजन अर्चन किया l इसके बाद गाजे-बाजे और सैकड़ों भक्तों, साधु संतों के साथ पालकी यात्रा शुरू हुई l नाचते कूदते धूम मचाते भोले नाथ की पालकी यात्रा की जगह-जगह आरती हुई l रामघाट से निर्मोही अनी होते हुए टैम्पो स्टैंड से होकर यात्रा मंदिर पहुंची। मंदिर के व्यवस्थापक प्रदीप तिवारी ने राजाधिराज के लिए 56 भोग की व्यवस्था की थी।

महाआरती हुई और हजारों की तादाद में भक्तों ने दर्शन लाभ लिए। पालकी यात्रा में मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष वेद भूषण तिवारी, पुजारी विपिन बिहारी, प्रदीप तिवारी, सोनू, रवि, गुलजारी लाल, पुनीत तिवारी के अलावा वेद पाठशाला सेठ जी बगिया व रघुवीर मंदिर के वेदपाठी  छात्रों की मौजूदगी रही, इसके अलावा तीर्थक्षेत्र के संत और बड़ी तादाद में भक्तजन यात्रा के साथ रहे। बुन्देली सेना ने पालकी यात्रा के दौरान 51 किलो पंचमेवा प्रसाद का वितरण किया। इस दौरान सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह के साथ जानकी शरण गुप्ता, अतुल सिंह, वीपी पटेल, कर्वी माफी प्रधान प्रतिनिधि बद्री सिंह पटेल, संजय गुप्ता, लाला श्रीवास्तव, सुधाकर सिंह समेंत कई अन्य युवा शामिल रहे।

उधर भोलेनाथ में अंतिम सोमवार को अन्य भक्तों ने भी खीर, मालपुआ, हलुआ, फल आदि का भोग लगाकर पुण्यार्जन किया। हर हर महादेव के नारों से तीर्थ नगरी गूंजती रही। उधर नगर के कर्वी माफी रोड पर स्थित सुखदा भक्ति आश्रम में सावन के अंतिम सोमवार पर महापूजा का आयोजन किया गया। यहां आश्रम के  प्रमुख आचार्य अनंतकृष्ण शास्त्री जी महाराज ने विधिवत पार्थिव पूजन और रुद्राभिषेक कराया, सैकड़ों की तादाद में यहां भक्तों ने महापूजा में शिरकत किया। 3 बजे से शुरू हुई महापूजा देररात तक जारी रही।

अन्य खबर

चर्चित खबरें