आई.जी. राजाबाबू सिंह के गांव में निकली पौधों की शोभायात्रा 

बुंदेलखण्ड के बांदा जिले के पचनेही गांव में आईजी राजा बाबू के निर्देशन में वृक्षारोपण महाअभियान की शुरुआत की गई। अभियान में गाजे-बाजे के साथ पेड़ पौधों की शोभायात्रा निकाली गई। बड़ी संख्या में शामिल लोग अपने अपने हाथों में पौधे लिए पौधरोपण की प्रेरणा दे रहे थे। यह अनोखा अभियान आईजी राजा बाबू सिंह के पैतृक गांव पचनेही में शुक्रवार को शुरू हुआ और राजा बाबू सिंह पहले आईपीएस अधिकारी हैं जो क्षेत्र के लोगों के लिए काम कर रहे हैं।

उन्होंने बाबा आप्टे के सपनों को साकार करने के उद्देश्य से पौधरोपण, जैविक खेती, अच्छी नस्ल की गाय लाने का बीड़ा उठाया और इसी संकल्प के साथ काम करना शुरू कर दिया। शोभा यात्रा के पहले आचार्य पंडित मनीष दिवेदी ने विधि पूर्वक पांच पौधे नीम, पीपल, बरगद, आंवला, तुलसी, आम, जामुन की पूजा की और फिर आरती उतारी। तत्पश्चात कुरसेजा धाम के महंत परमेश्वरदास जी की अगुवाई में सैकड़ों लोगों ने आईजी राजा बाबू सिंह के आवास से वृक्षों की शोभा यात्रा शुरू की।

इस कार्यक्रम के संयोजक जयराम सिंह ने कहा कि इस तरह की शोभायात्रा जनपद के सभी 8 ब्लाॅकों में निकाली जाएगी और पांच-पांच गांव में पौधारोपण के लिए निःशुल्क वृक्ष दिए जाएंगे। इस वर्ष हम लोगों ने 1500 वृक्ष लगाने का संकल्प लिया है। सर्वोदयी उमाशंकर पांडेय ने कहा कि आईजी राजाबाबू सिंह ने इस अभियान को शुरू करके पर्यावरण के प्रति अपनी आस्था प्रकट की है।