< सड़क दुर्घटनाओं को लेकर हाईवे का नाम खूनी हाईवे रखा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News कानपुर सागर हाईवे में आए दिन होने वाली सड़क दुर्घटन"/>

सड़क दुर्घटनाओं को लेकर हाईवे का नाम खूनी हाईवे रखा

कानपुर सागर हाईवे में आए दिन होने वाली सड़क दुर्घटनाओं को लेकर 'इस हाईवे का नाम लोगों ने खूनी हाईवे' रख दिया है। इस हाईवे में चलने वाले लोग काफी बच बचाकर चलते हैं ताकि घटना का शिकार न हो जाएं। वहीं शाम एक छात्र जब साइकिल चलाने निकला तो यातायात के नियमों का पालन करते हुए उसने अपने सिर में हेलमेट लगा लिया। जब गश्त कर रही पुलिस ने पूछा तो उसने कहा कि यदि कोई घटना होगी तो वह हेलमेट के सहारे बच सकता है। बच्चे की इस बात पर अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने उसे सम्मानित करने की बात कही है।

गौरतलब हो कि लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा स्वयं मुख्यालय समेत अलग अलग स्थानों में पैदल गश्त करके लोगों को हेलमेट व सीट बेल्ट लगाने की अपील कर रहे हैं। ताकि लोग अपनी जिदगी बचा सकें। उनका यह संदेश चंदौखी निवासी 15 वर्षीय छात्र भरत कुमार पुत्र रघुवीर के दिमाग में बैठ गया और शाम जब वह हाईवे में साइकिल लेकर निकला तो उसने अपने सिर में हेलमेट लगा रखा था।

सभी उसे देखकर दंग नजर आए। वहीं कुछेछा पुलिस चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार त्रिपाठी अपनी टीम के साथ गश्त करने निकले तो उन्होंनें बच्चे को देखा तो उससे हेलमेट लगाने का कारण पूछा। जिस पर उसने बताया कि सर मैं अपनी सुरक्षा के लिए हेलमेट लगाकर जा रहा हूं। इस हाईवे में ट्रैफिक बहुत है और आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है। जिस कारण उसने हेलमेट लगा रखा है। वहीं जो बाइक सवार बिना हेलमेट लगाए मिले तो उन्हें बालक से नसीहत लेने की बात कही गई। वहीं बच्चे की इस मुहिम पर एएसपी संतोष कुमार सिंह ने उसे सम्मानित करने को कहा है।

अन्य खबर

चर्चित खबरें