< एसपी से नहीं मिलने दिया तो युवक ने खुद को लगाई आग, मौत Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जिला मुख्यालय के पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने एक फरियादी ने "/>

एसपी से नहीं मिलने दिया तो युवक ने खुद को लगाई आग, मौत

जिला मुख्यालय के पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने एक फरियादी ने खुद को आग के हवाले कर दिया। दरबान से उसने एसपी साहब से मुलाकात का वक्त मांगा था, लेकिन जब उसे जवाब मिला कि साहब शाम 4 बजे के बाद मिलेंगे तो उसने परेशान होकर खुद को आग के हवाले कर दिया।

इस घटना से पुलिस अधीक्षक कार्यालय में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस कर्मियों ने आग में जल रहे फरियादी की आग बुझाई और तत्काल उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। लगभग 90 फीसदी आग में झुलसे युवक कन्हैया अग्रवाल की उपचार के दौरान मौत हो गई।

बताया जाता है कि उसने युवक अमन दुबे की प्रताडना से आग लगाई थी।आरोपित अमन दुबे पर पुलिस ने मामला दर्ज कर देर रात कर लिया। पुलिस को शिकायत देने के बाद भी कारवाई न करने से युवक परेशान था। प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एसपी तिलक सिंह भी अपने कार्यालय में बैठकर कामकाज निपटा रहे थे

। दोपहर करीब 12 बजे शहर के गल्ला मंडी क्षेत्र में रहने वाला जीतू उर्फ कन्हैयालाल अग्रवाल अपनी शिकायत लेकर पहुंचा और दरबान से एसपी साहब से मुलाकात का समय मांगा। जब दरबान ने उसे एसपी साहब से 4 बजे मिलने की बात कही तो उसने एसी कार्यालय के कैंपस में ही पेट्रोल डालकर खुद को आग के हवाले कर दिया।

जैसे ही पुलिस कर्मियों ने युवक को आग की लपटों में घिरा देखा तो हड़कंप मच गया। जल्द ही पुलिस कर्मी उसके पास पहुंचे और कंबल और पेड़ों की झाड़ियों से आग बुझाने का प्रयास कि या। आनन-फानन में उसे पुलिस वाहन में जिला अस्पताल लाया गया। डाक्टरों ने उसे उपचार के बाद बर्न यूनिट में भर्ती कराया था। उसका उपचार कर रहे सर्जन डॉ. वीपी शेषा ने बताया कि फरियादी कन्हैयालाल अग्रवाल लगभग 90 प्रतिशत जल चुका था।

अन्य खबर

चर्चित खबरें