< नाबालिग बच्चियों को आपराधिक घटनाओं से बचाने की मुहिम शुरू Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा, आजकल नाबालिग बच्चियों के साथ आपराधिक घटनाएं बंद नहीं हो "/>

नाबालिग बच्चियों को आपराधिक घटनाओं से बचाने की मुहिम शुरू

बांदा, आजकल नाबालिग बच्चियों के साथ आपराधिक घटनाएं बंद नहीं हो रहीं। इन घटनाओं को अंजाम देने वाले अपराधी हमारे आपके बीच में घूम रहे हैं, ऐसे तत्वों से बच्चियों को बचाने के लिए सुरक्षा संवाद की आवश्यकता पर अपर पुलिस अधीक्षक लाल भरत कुमार पाल ने बल दिया। मंगलवार को बुन्देलखण्ड विकास सोसाइटी द्वारा बांदा पुलिस और माध्यमिक शिक्षा विभाग के सहयोग से आदर्श बजरंग इंटर काॅलेज, बांदा में ‘सुरक्षा संवाद’ कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद अपर पुलिस अधीक्षक लाल भरत कुमार पाल ने कहा कि बच्चियों को जागरूक व प्रशिक्षित करने के लिये उन्हें आत्मरक्षा के रूल सीखने होंगे और यह तभी संभव होगा जब काॅलेज के शिक्षक छात्राओं को बचाव के रास्ते बताएँगे। 

बुन्देलखण्ड विकास सोसाइटी के अध्यक्ष श्याम जी निगम ने बताया कि विगत काफी दिनों से छोटी-छोटी बच्चियों के साथ आपराधिक घटनाएं सुनने में आ रही हैं। इसे देखते हुए अब जरूरत थी कि ऐसे संवाद विद्यालय स्तर पर आयोजित किए जायें जिससे बच्चियों को समाज में अपने आगे-पीछे चल रहे उन लोगों को पहचानने में मदद मिले जिससे उन्हें खतरा है। इसी कड़ी में यह पहला कार्यक्रम है जब बांदा जनपद के सभी माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यों के साथ संवाद किया जा रहा है। अब इसके अगले स्तर में विद्यालय स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किया जाना है।

 

 

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जिला विद्यालय निरीक्षक हिफजुर्रहमान ने आये हुए सभी प्रधानाचार्यों से आह्नान किया कि बुन्देलखण्ड विकास सोसाइटी के प्रतिनिधियों को सहयोग करके अपने-अपने विद्यालयों में इस प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन करें जहां विद्यालय की बच्चियों के साथ सुरक्षा संवाद हो ताकि कल फिर किसी बच्ची के साथ आपराधिक घटना न घट सके।

आदर्श बजरंग इण्टर काॅलेज के प्रधानाचार्य मेजर मिथलेश कुमार पाण्डेय ने कहा कि वास्तव में अब बच्चियों को बताने की आवश्यकता है। तभी हम अपने परिवार को सुरक्षित रख सकेंगे। क्योंकि कोई अपराधी पहले से बताकर अपराध को अंजाम नहीं देता, इसीलिए हमें पहले ही जागरूक रहना होगा, वह सारे उपाय करने होंगे, जिनसे हम अपनी बच्चियों को उनकी बुरी नजर से बचा सकें। इस अवसर पर बुन्देलखण्ड विकास सोसाइटी के सचिव सचिन चतुर्वेदी सहित कार्यक्रम का संचालन कर रहे देशराज सिंह तथा सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्य व अध्यापक मौजूद रहे।
 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें